Jodhpur: जोधपुर में देर रात हिंसा भड़की, आमने-सामने आए दो समुदाय के लोग, पत्थरबाजी में SHO घायल

Ashok Sharma

ADVERTISEMENT

Jodhpur: जोधपुर में देर रात भड़की हिंसा, आमने-सामने आए दो समुदाय के लोग, पत्थरबाजी में पुलिसकर्मी भी घायल
Jodhpur: जोधपुर में देर रात भड़की हिंसा, आमने-सामने आए दो समुदाय के लोग, पत्थरबाजी में पुलिसकर्मी भी घायल
social share
google news

Jodhpur: जोधपुर में देर रात एक निर्माण कार्य को लेकर दो समुदाय के लोग आपस में भिड़ गए और विवाद बढ़ा तो जमकर पत्थरबाजी की. इस घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मोर्चा संभाला. शुक्रवार शाम सूरसागर थाना इलाके में निर्माण को लेकर दो गुटों के बीच हुए विवाद ने इतना तूल पकड़ा कि रात को व्यापारियों के मोहल्ले के आस-पास दोनों तरफ के लोग आमने-सामने हो गए और फिर जमकर पत्थर चले.

इस घटना को लेकर स्थानीय थाना पुलिस मौके स्थिति को भांप नहीं पाई और हालात बेकाबू हो गए. आनन-फानन में अलग-अलग थानों का जाब्ता और आरएसी मौके पर भेजी गई और रात करीब 11.45 बजे पुलिस कमिश्नर राजेंद्र सिंह भी मौके पर पहुंचे. इस घटनाक्रम में पुलिस कर्मी भी घायल हुए. इनमें चौपासनी हाउसिंग बोर्ड थानाधिकारी नितिन दवे भी शामिल हैं. 

घटना को विधायक ने बताया- दुर्भाग्यपूर्ण

देर रात सूरसागर विधायक देवेंद्र जोशी, शहर विधायक अतुल भंसाली भी मौके पर पहुंचे. इस घटना को लेकर विधायक देवेंद्र जोशी ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि जिस तरह से लोगों को घरों से निकालकर मारा गया है, बच्चों के साथ मारपीट की गई है उनके दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. जोशी ने एक सवाल के जवाब में यह भी कहा कि प्रदेश में जिस तरह से पिछले तीन-चार दिनों में तनावपूर्ण घटनाएं हुई है उसे लगता है कि कुछ लोग बीजेपी की सरकार को पचा नहीं पा रहे हैं, इसलिए इन घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं. 

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

क्यों भड़की हिंसा

जानकारी के मुताबिक क्षेत्र में स्थित ईदगाह के पास एक दीवार के निर्माण को लेकर शाम को दोनों पक्ष आमने-सामने हुए थे. मौके पर पुलिस ने दोनों पक्षों को समझ कर मामला शांत करवा दिया था लेकिन सात बजे बाद चौराहे पर एक पक्ष के लोग जमा हो गए. जिन्हें पुलिस ने हटाया. कुछ देर बाद ही व्यापारियों के मोहल्ले में पत्थर चलने लगे. अफरा-तफरी मच गई. आसपास की गलियों में पत्थरों के ढेर लग गए. मौके पर मौजूद गिनती के पुलिसकर्मी हालात पर काबू नहीं पा सके. उसके बाद अधिकारियों को जानकारी मिलने पर अतिरिक्त फोर्स भेजी गई. तब तक हालत बेकाबू हो गए. 

पुलिस ने 2 दर्जन लोगों को लिया हिरासत में

एक समय तो ऐसा आया कि पुलिस को पीछे होना पड़ा. रात 12 बजे बाद पुलिस ने लोगों को घरों से निकाल कर उठाना शुरू किया. करीब एक दर्जन लोगों को थाने ले गए. पथराव के दौरान व्यापारियों के मोहल्ले में रईस नामक एक व्यक्ति की झाड़ू की दुकान को आग लगा दी गई. उसके परिजन घर के ऊपर से गुहार लगाते नजर आए. इस दौरान भी रह रह कर पत्थर चलते रहे. आग पर काबू पाने के लिए फायर ब्रिगेड बुलाई गई. इसी तरह एक जगह पर एक ट्रैक्टर को भी एक पक्ष ने फूंक दिया. जिससे अफरा तफरी का माहौल बना रहा.

ADVERTISEMENT

घटना का कारण क्या 

वहीं दो दिन पहले इसी क्षेत्र में आबों का बास व व्यापारियों का मोहल्ला में आपसी विवाद के बाद कुछ किशोरों में झगड़े के बाद मारपीट कर दी गई. परस्पर विरोधी मामले दर्ज किए गए. गिरफ्तारी की मांग को लेकर गुरुवार देर रात दोनों पक्ष थाने पहुंचे और नारेबाजी व प्रदर्शन किया. एकबारगी तनाव व्याप्त हो गया. समझाइश के बाद दोनों पक्ष घर लौट गए थे. इस घटना को भी कारण माना जा रहा है.

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT