बिल पास करने की एवज में महिला कर्मचारी ने मांगा था 15% कमीशन, ACB ने अपने जाल में यूं फंसाया

Santosh Sharma

ADVERTISEMENT

बिल पास करने की एवज में महिला कर्मचारी ने मांगा था 15% कमीशन, ACB ने अपने जाल में यूं फंसाया
बिल पास करने की एवज में महिला कर्मचारी ने मांगा था 15% कमीशन, ACB ने अपने जाल में यूं फंसाया
social share
google news

Rajasthan ACB: अलवर जिले की एसीबी टीम नें मुंडावर के महिला एवं बाल विकास विभाग की दो महिला सुपरवाइजर को कोरोना काल के बिल पास करने की एवज में 37 हजार रुपएकी रिश्वत लेते ट्रैप किया है. परिवादी के द्वारा एसीबी में शिकायत दर्ज कराई गई थी कि उनके पुराने बकाया बिल के 15% कमीशन की मांग को लेकर एसीबी की दो महिला सुपरवाइजर सुशीला देवी और कृष्णा देवी लगातार रिश्वत देने का दबाव बना रही है. उसके बाद उसके बिल पास करने की बात कही जा रही है. इसकी शिकायत इसी एसबी में की गई.

शिकायत का सत्यापन होने के बाद आज एसीबी के द्वारा सुशीला देवी और कृष्णा देवी को रंगे हाथ ट्रैप किया गया. एसीबी ने सुशीला देवी नें 26 हजार रुपए और कृष्णा देवी शर्मा नें 10 हजार रुपए की रिश्वत ली थी. दोनों महिला सुपरवाइजर से रिश्वत की राशि बरामद कर ली है. जिनसे पूछताछ की जा रही है, फिलहाल मुंडावर महिला एवं बाल विकास विभाग में एसीबी कार्रवाई जारी है. दोनों महिला सुपरवाइजर ने आंगनबाड़ी के पोषाहार के बिल पास करने के एवज में रिश्वत की राशि की मांग की थी. परिवादी से पूर्व में भी ₹4000 रिश्वत के लिए गए थे. एसीबी के एएसपी परमेश्वर दयाल के नेतृत्व में कार्रवाई जारी है.

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के डीएसपी परमेश्वर लाल ने बताया कि एसीबी की अलवर द्वितीय इकाई को परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि एसएचजी. द्वारा सप्लाई पोषाहार बिलों के किये गये भुगतान में से 15 प्रतिशत राशि एवं अन्य सहयोगी को किये गये भुगतान में से भी 15 प्रतिशत कमीशन इकट्ठा कर देने का दबाव बनाकर सुशीला देवी महिला सुपरवाईजर द्वारा 26 हजार रुपए एवं कृष्णा शर्मा महिला सुपरवाईजर, कार्यालय समेकित बाल विकास परियोजना, द्वारा 15 हजार रुपए रिश्वत राशि की मांग कर परेशान किया जा रहा है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

जिस पर एसीबी के जयपुर के उप महानिरीक्षक पुलिस कालूराम रावत के सुपरवीजन में एसीबी की अलवर द्वितीय इकाई के उप अधीक्षक पुलिस परमेश्वर लाल द्वारा शिकायत का सत्यापन किया गया. इस दौरान महिला सुपरवाइजर सुशीला देवी मुण्डावर को परिवादी से 26 हजार रुपए की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है.

इसी प्रकार एक अन्य कार्रवाई में पुलिस निरीक्षक सुरेश चंद एसीबी सीकर द्वारा मय टीम के ट्रैप कार्रवाई करते हुए कृष्णा शर्मा निवासी अरावली विहार, अलवर हाल महिला सुपरवाईजर, कार्यालय समेकित बाल विकास परियोजना को परिवादी से 10 हजार रुपए की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है. उल्लेखनीय है कि आरोपी उक्त महिला सुपरवाईजर द्वारा शिकायत के सत्यापन के दौरान 4 हजार रुपए परिवादी से रिश्वत के रूप में वसूल कर लिये थे. एसीबी महानिरीक्षक पुलिस सवाई सिंह गोदारा के निर्देशन में आरोपियों से पूछताछ जारी है. एसीबी द्वारा मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जाएगा.

ADVERTISEMENT

हनुमानगढ़: नोहर को जिला बनाने की मांग हुई तेज, कांग्रेसी नेता पार्टी से खिलाफत करने को हुए तैयार

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT