इंपैक्ट फीचर: कौशल अग्रवाल के ग्वालियर डायरीज से जुड़े 2.5 लाख से ज्यादा लोग, पहले असफलता मिली फिर भी डटे रहे

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Impact Feature: ग्वालियर में लोगों के बीच सूचनाएं पहुंचाने के इरादे से कौशल अग्रवाल ने ग्वालियर डायरीज नाम के पेज को अक्टूबर 2018 में शुरू किया. हालांकि शुरूआती दिनों में यह ठीक से चला नहीं चला. हालत इतनी खराब हो गई कि किस्मत ने भी उस समय साथ नहीं दिया. किसी कारणवश ऑफिशियल प्लेटफार्म द्वारा पेज को अनपब्लिश कर दिया गया, लेकिन कौशल अग्रवाल ने हार नहीं मानी.

किस्मत ने भले साथ नहीं दिया हो, लेकिन उन्हें अपनी मेहनत पर पूरा विश्वास था. उन्होंने चुनौतियों से हार नहीं मानी बल्कि एक बार फिर ग्वालियर डायरीज नाम से पेज बनाया और पिछली बार के मुकाबले इस बार दोगुनी मेहनत कर ग्वालियर डायरीज को ग्वालियर के लोगों को बीच पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी.

लिहाजा आज के दिनों में ग्वालियर डायरीज के फेसबुक पेज को दो लाख से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं साथ ही इंस्टाग्राम में इसका अलग फैनबेस है. यहां तक कि ग्वालियर डायरीज व्हाट्सएप के जरिए भी ग्वालियर के लोगों को आवश्यक सूचनाएं समय पर पहुंचाता है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

कौशल को कम उम्र से ही डिजिटल मार्केटिंग की दुनिया पसंद थी. वे जब नौवीं क्लास में थे तभी उन्होंने डिजिटल मार्केटिंग की दुनिया में अपना पहला कदम रख दिया था. बता दें कि लंबी लड़ाई के बाद ग्वालियर डायरीज के सफलता के बावजूद उन्होंने अपनी पढ़ाई छोड़ी नही, बल्कि जारी रखी है. वे BCA कंप्लीट कर MCA की पढ़ाई फिलहाल कर रहे हैं.

(यह इंपैक्ट फीचर प्रचार-प्रसार विभाग के सौजन्य से प्रकाशित किया गया है.)

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT