राजस्थान में भी है एक स्विट्जरलैंड! खूबसूरती देख दंग रह जाएंगे आप, यहां जानें किस मौसम में जाएं घूमने?

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Kishangarh dumping yard: राजस्थान अपनी अनोखी सांस्कृतिक विरासत और धरोहर के लिए दुनिया भर में जाना जाता है. यहां के सुंदर किले, प्राचीन मंदिर और रेत के टीलों के बारे में तो आप ने सुना ही होगा. लेकिन क्या आप जानते हैं कि यहां रेत के पहाड़ों के साथ-साथ बर्फ के पहाड़ भी पाए जाते हैं. जी हां, हम बात कर रहे हैं राजस्थान (rajasthan news) के अजमेर जिले के किशनगढ़ शहर में बने “किशनगढ़ डंपिंग यार्ड” की. इसे राजस्थान का मिनी स्विट्जरलैंड (Mini Switzerland) कहा जाता है.

मार्बल के पाउडर और वेस्ट मटेरियल से तैयार किया गया प्रदेश का मिनी स्विटजरलैंड स्थानीय लोगों के साथ-साथ देसी-विदेशी पर्यटकों को भी अपनी ओर आकर्षित करता है. यहां आकर लोग अचंभित हो जाते है कि रेगिस्तान में बर्फ का पहाड़ कहां से आ गया.  बर्फ की चट्टानें नीला पानी और पूरा डंपिंग यार्ड एकदम स्विट्जरलैंड जैसा ही दिखता है. सर्दियों के दिनों में तो यहां का मौसम भी खुशनुमा हो जाता है.

 

 

बॉलीवुड की कई फिल्में हो चुकी हैं शूट

किशनगढ़ में बना यह डंपिंग यार्ड बर्फ़ की खान के रूप में भी जाना जाता है. जहां दूर-दूर तक सफेद रंग के टीले और समतल मैदान हैं. यह डंपिंग यार्ड 300 बीघा में बना हुआ है . यहां सालभर पर्यटकों का आना जाना लगा रहता है. पर्यटकों के अलावा किशनगढ़ डंपिंग यार्ड में बॉलीवुड की कई फिल्मों और गानों की भी शूटिंग हो चुकी है. इसके अलावा लोग यहां शादी के एल्बम भी शूट करवाने के लिए आते हैं.

संगमरमर के कूड़े से बना है किशनगढ़ डंपिंग यार्ड 

दरअसल, किशनगढ़ डंपिंग यार्ड में नजर आने वाली सफेद परत बर्फ नहीं, बल्कि संगमरमर को काटने पर निकला हुआ पाउडर होता है, जो देखने में बर्फ जैसा लगता है. इन छोटे-छोटे टीलों के बीच में जमा पानी बिल्कुल आइसलैंड जैसा दिखता है. यही कारण है कि किशनगढ़ डंपिंग यार्ड को राजस्थान का स्विट्जरलैंड कहा जाता है. किशनगढ़ अपने मार्बल उद्योग के लिए पुरी दुनिया में जाना जाता है. किशनगढ़ डंपिंग स्टॉलिंग यार्ड किशनगढ़ के रिक्को औद्योगिक क्षेत्र में स्थित है. यहां संगमरमर के कूड़े, पाउडर और आम तौर पर घटिया, टाइल्स और अन्य निर्माण सामग्री डंप किए जाते हैं. इन सबसे मिलकर किशनगढ़ डंपिंग यार्ड बनाया गया है, जो यहां आने वाले पर्यटकों को आकर्षित करता है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यहां घूमने के लिए सर्दियों का मौसम है बेस्ट

वैसे तो लोग यहां हर मौसम में  घूमने आते हैं पर, स्विटजरलैंड जैसे एहसास के लिए सर्दियों का मौसम सबसे अच्छा होता है. कड़ाके की ठंड में स्विट्जरलैंड जैसी वादियां लोगों को खूब पसंद आती हैं. आपको बता दें कि यह यार्ड सुबह 10 बजे से लेकर शाम 6 बजे तक खुला रहता है. अगर आप भी इस जगह पर घूमना चाहते हैं तो सर्दी का मौसम फैमली के साथ घूमने के लिए बेस्ट है.

कंटेंट: राजस्थान तक के लिए इंटर्न कर रहीं नेहा मिश्रा की स्टोरी

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT