Tonk में माहौल अब सामान्य, बवाल के बाद पुलिस बल तैनात, धारा 144 लागू!

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Atmosphere in Tonk now normal, police force deployed after ruckus, Section 144 implemented!

social share
google news

आपने अपने आस-पास के मोहल्ले या गांव में इस तरह की लड़ाई तो देखी ही होगी। लेकिन इस लड़ाई के बाद जो हुआ उसको देखकर शायद आपकी भी रूह कांप जाएगी। जी हां, तेज़ रफ्तार में बाईक चलाने पर टोका टोकी को लेकर दो अलग अलग समुदायों में इतनी कहा-सुनी हो गई कि दोनों पक्षों की ओर से पत्थरों की बारिश होने लगी। जिसके चलते 2 कांस्टेबल सहित कुल 19लोग जख्मी हुए हैं.जिनमें से 1कांस्टेबल और 1 अन्य घायल को जयपुर के लिये रैफर किया गया है.शेष सभी घायलों का सीएचसी मालपुरा पर प्राथमिक उपचार किया गया है. मामला तो इतना बढ़ गया कि प्रशासन को वहीं धारा 144 लगानी पड़ी। मामला टोंक के मालपुरा कस्बे का है। इस घटना के बाद से अफवाहों का बाजार भी गर्म है। लोग कह रहे हैं कि पायलट के क्षेत्र में दंगा करवाने की कुछ लोग साजिश कर रहे हैं। हालांकि जिला प्रशासन ने इस घटना से इंकार किया है। इस घटना के बाद से जिला प्रशासन और पुलिस पूरी तरह सतर्क नज़र आ रहे हैं.यहां पुलिस और आरएसी के जवानों द्वारा मौके पर स्थिति को नियंत्रण में किये जाने के बीच ही कलेक्टर चिन्मयी गोपाल और पुलिस अधीक्षक राजर्षि राज ने मालपुरा पहुंच शांति बहाली को लेकर प्रयास शुरू कर दिये हैं.इधर इस मामले को राजस्थान सरकार द्वारा गंभीरता से लिये जाने के बाद संभागीय आयुक्त अजमेर भंवर लाल मेहरा व आईजी अजमेर रूपिंदर सिंह भी रात ही को मालपुरा पहुंच गये हैं और सभी अधिकारियों के साथ घटनास्थल का मुआयना कर दोनों पक्षों के लोगों से मिल पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली है.कलेक्टर व एसपी दोनों ने ही इस घटना को लेकर लोगों से सांप्रदायिक रंग नहीं दिये जाने की अपील करते हुए इसे दो पक्षों का विवाद बताते हुए लोगों से अफवाहों पर ध्यान नहीं दिये जाने की अपील की है.पुलिस अधीक्षक राजर्षि राज ने कहा कि इस घटना का सांप्रदायिक हिंसा से कोई संबंध नहीं है और यह सीधा सीधा दो पक्षों का आपसी विवाद है.इधर ताज़ा जानकारी के अनुसार घटनास्थल से हुई 12लोगों की गिरफ्तारी के बाद रात भी पुलिस ने दबिश देते हुए लगभग 18 लोगों को ओर गिरफ्तार कर लिया है.

You must have seen this type of fight in your locality or village. But seeing what happened after this fight, perhaps your soul will also tremble. Yes, on riding a bike at high speed, there was so much talk between two different communities about Toka Toki that it started raining stones from both the sides. Due to which a total of 19 people including 2 constables have been injured. Out of which 1 constable and 1 other injured have been referred to Jaipur. All the remaining injured have been given first aid at CHC Malpura. The matter escalated so much that the administration had to impose section 144 on the spot. The case pertains to Malpura town of Tonk. Since this incident, the market of rumors is also hot. People are saying that some people are conspiring to create riots in Pilot’s area. However, the district administration has denied the incident. After this incident, the district administration and the police seem to be fully alert. Collector Chinmayi Gopal and Superintendent of Police Rajarshi Raj reached Malpura to restore peace even as the police and RAC jawans brought the situation under control on the spot. Efforts have been started. On the other hand, after the matter was taken seriously by the Rajasthan Government, Divisional Commissioner Ajmer Bhanwar Lal Mehra and IG Ajmer Rupinder Singh have also reached Malpura at night itself and after inspecting the spot along with all the officials, both sides Met the people and inquired about the entire incident. Both the Collector and the SP appealed to the people not to give communal color to the incident, calling it a dispute between two parties and appealed to the people not to pay heed to the rumors. Superintendent of Police Rajarshi Raj said that this incident has nothing to do with communal violence and it is a direct dispute between the two parties. According to the latest information, after the arrest of 12 people from the spot, the police raided almost 18 people have been arrested.

ADVERTISEMENT

यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT