पब्लिक के बीच सीएम! क्या पायलट कैंप देखता रह जाएगा, और दिल्ली के रास्ते गहलोत फिर कर जाएंगे जादू?

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

CM among the public! Will the pilot camp keep watching, and Gehlot will again do the magic via Delhi?

social share
google news

जिन्हें लगता है राजस्थान में सिर्फ सचिन पायलट के चाहने वाले हैं वो जरा एक बार ये तस्वीरें देखें। जिन्हें लगता है लोग सिर्फ पायलट के दीवाने हैं वो जरा एक बार पब्लिक के बीच सीएम गहलोत की दीवानगी देखें। और जिन्हें लगता है गहलोत सरकार ने 4 साल में कुछ नहीं किया वो एक बार जरा इनसे मिलें। लगता है पब्लिक के बीच सीएम अशोक गहलोत और उनका काम बोल रहा है। ये तस्वीरें हैं हाल ही में शुरु हुए गहलोत सरकार के महंगाई राहत कैंप की जिसकी तारीफ में लोग कसीदे पढ़ रहे हैं। हालांकि लोगों का ये वीडियो सीएम गहलोत ने खुद अपने फेसबुक पेज पर डाला है। और दावा किया है कि महंगाई राहत कैंप से अब तक 1 करोड़ से भी ज्यादा परिवारों को लाभ मिला है। करीब महीने भर से चल रहे इस कैंप में 5 करोड़ लोगों को गारंटी कार्ड दिया गया है। अब इस महंगाई राहत कैंप से आपको कितनी राहत मिली है ये तो आप ही बताएंगे। लेकिन सीएम साहब अपनी पीठ थपथपाने से पीछे कैसे हटेंगे। फ्री बिजली, चिरंजीवी, ओपीएस और अब ये महंगाई राहत कैंप के दम पर सीएम गहलोत अपनी सरकार रिपीट कराने का दम भर रहे हैं। आज गहलोत भी पायलट के तरह पब्लिक के बीच जा रहे हैं। किसी से हाथ मिला रहे तो किसी से आशीर्वाद ले रहे। अब जाहिर है चुनाव है तो पब्लिक के बीच को जाना ही पड़ेगा। खैर पब्लिक के बीच जाकर सीएम साहब बार-बार कह रहे हैं कि झगड़े से नहीं काम से सरकार रिपीट होगी। और किसे कह रहे हैं ये बताने की जरूरत नहीं। फिलहाल पायलट कैंप गहलोत पर हावी जरूर है लेकिन चुनाव में कोई कैंप या गुट नहीं, पब्लिक का वोट काम करता है। भीड़ भले ही सचिन पायलट की तरफ दिख रही हो, लेकिन पब्लिक के दिल में अब भी गहलोत के लिए बड़ी जगह है। पायलट का चोट खाए गहलोत भले ही शांत हो लेकिन ज्यादा देर तक रहेंगे नहीं। ये तूफान से पहले की शांति है.. और जो लोग गहलोत की राजनीति को जानते हैं वो समझ सोच सकते हैं जिस दिन गहलोत अपनी चाल चलेंगे उस दिन क्या होगा। पायलट को लग रहा होगा कि उन्होंने राजस्थान में गहलोत को शांत कर दिया लेकिन शायद वो जानते नहीं दिल्ली में जादू करके गहलोत कब बड़ा खेल कर जाएं, और पायलट कैंप एक बार फिर मुंह लटकाए बैठा रह जाए।

CM among the public! Will the pilot camp keep watching, and Gehlot will again do the magic via Delhi?

ADVERTISEMENT

यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT