Video: पिता की परेशानी देख बेटे को आया आइडिया, बना डाली रिमोट से चलने वाली अनोखी साइकिल

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Dausa News: दौसा के फतेह लाल मीणा ने अपने पिता की परेशानियों को देखकर बिना ड्राइवर के चलने वाली साइकिल (remote controlled bicycle) बनाई है.

social share
google news

Rajasthan News: टेक्नोलॉजी के इस दौर में एक से बढ़कर एक नई-नई मोटर गाड़ियां आ गई हैं. लेकिन इस बीच दौसा (Dausa News) के एक छोड़े से गांव के युवक ने बिना ड्राइवर के चलने वाली साइकिल (remote controlled bicycle) का आविष्कार किया है. इसे बनाने में युवक ने हजारों रुपये खर्च किए हैं. अब युवक का यह कारनामा चर्चा का विषय बन गया है. 

साइकिल को बनाने के लिए दौसा जिले की नांगल राजावत तहसील के कानपुरा गांव के फतेह लाल मीणा ने जो पैसे खर्च किए वो उसके खुद के पैसे थे. उसने दोस्तों से भी पैसे उधार लिए. इसके अलावा लैपटॉप और मोबाइल के नाम पर घरवालों से जो पैसे मिलते थे, उसने उन्हें भी साइकिल बनाने में खर्च कर दिए.

पिता की परेशानियों को देखकर आया आइडिया

फतेह लाल ने बताया कि जब वह गांव में होते थे तब वह डेयरी पर दूध देने जाया करते थे. लेकिन जब वह पढ़ाई करने के लिए जयपुर चले गए तब पिता की परेशानी बढ़ गई. पिताजी अक्सर उससे कहते थे कि अब डेयरी पर दूध देने कौन जाएगा. पिता की इस परेशानी को देखकर युवक को आइडिया आया कि क्यों ना ऐसी साइकिल बनाई जाए जो बिना किसी ड्राइवर के डेयरी पर दूध देकर आ सके. 

घर बैठकर रिमोट से चला सकते हैं साइकिल

इस साइकिल को रिमोट से ऑपरेट कर एक से डेढ़ किलोमीटर तक चलाया जाता है. कोई भी इसके माध्यम से घर पर बैठकर ही रिमोट के माध्यम से घूम सकता है. यह साइकिल एक बार में 50 किलो वजन लेकर चल सकती है. अगर इसमें थोड़ा सा और प्रयोग किया जाए तो इसकी रेंज 15-20 किमी तक हो सकती है. साइकिल में दो सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं जिनके माध्यम से स्क्रीन पर सब कुछ देखा जा सकता है.

ADVERTISEMENT

यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT