Jaipur: 2 शादियों के बाद भी नहीं हुआ लड़का तो पत्नी को ही बना दिया चोर, सामने आया हैरान करने वाला मामला

विशाल शर्मा

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

राजस्थान के जयपुर (Jaipur Crime News) में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. जब शादी के दो साल तक भी पत्नी को बेटा नहीं हुआ तो शख्स ने उसे चोर बना दिया. 4 दिन पहले हुए अपहरण के इस मामले को जानने के बाद हर कोई हैरान है. अब पुलिस (Rajasthan Police) पूछताछ में दंपति ने ऐसे चौंकाने वाले खुलासे किए है, जिसे सुनकर आप भी दंग रह जाएंगे. 

पुलिस ने आरोपी दंपति रमेश और पायल को गिरफ्तार किया है. जिन्होंने 4 दिन पहले दुर्गापुरा पुलिया के पास खेल रहे 9 माह के मासूम को उठा लिया था. यही नहीं, आरोपी पति-पत्नी बच्चे का अपहरण कर पहले उसे दौसा ले गए, जहां उसे नए कपड़े और खिलौने भी दिलाए और दिल्ली शिफ्ट होने का प्लान तैयार कर लिया. तभी पुलिस की एंट्री हुई और फिर उनकी सारी प्लानिंग धरी की धरी रह गई.

 

 

बेटे के लिए रमेश ने की थी दूसरी शादी

दरअसल, गिरफ्तार आरोपी रमेश की दूसरी पत्नी  पायल है, जिसके एक भी बच्चा नहीं है. जबकि रमेश की पहली पत्नी के 4 बेटियां है इसलिए बेटे की चाहत में रमेश ने पायल के साथ नाता प्रथा से दूसरी शादी रचाई. लेकिन 7 साल बीत जाने के बावजूद लड़का नहीं हुआ. यही नहीं, रमेश ने आईवीएफ तकनीक से भी बच्चा करने की कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हो पाए. इसके बाद 2 बार लड़का गोद लेने की भी कोशिश की लेकिन नाकाम रहे. ऐसे में आख़िरकार रमेश ने पायल को बच्चा चोरी करने की सलाह देकर बच्चे के अपहरण करने का प्लान तैयार किया. 

CCTV फुटेज से खुला राज

जयपुर ईस्ट डीसीपी कावेन्द्र सिंह सागर ने बताया कि 27 मई को दुर्गापुरा पुलिया के पास 9 माह के बच्चे के दिनदहाड़े अपहरण की सूचना के बाद एयरपोर्ट पुलिस थाना मौके पर पहुंचा और दर्जनों सीसीटीवी फुटेज खंगाले. तब एक फुटेज में महिला बच्चे को गोद में लेकर जाती हुई दिखाई दी. जिसके आधार पर पुलिस जांच पड़ताल करते हुए दौसा पहुंची जहां आरोपी रमेश और पायल को गिरफ्तार कर सकुशल बच्चे को बरामद कर लिया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

पूछताछ में पता चला कि अपहरण से पहले आरोपियों ने बच्चे के माता-पिता से जान पहचान बनाई और 15 दिनों तक आरोपी पायल ने रेकी भी की. इसके बाद मौका मिलते ही पायल खेल रहे बच्चे को उठा अपने साथ ले गई. जहां कुछ दुरी पर उसका पति रमेश बाइक लेकर खड़ा था और फिर दोनों बाइक पर बच्चे को अपने साथ लेकर चले गए. वहीं पुलिस को चकमा देने के लिए आरोपी ने बाइक की नंबर प्लेट भी फर्जी लगा रखी थी ताकि पुलिस की पकड़ में नहीं आ सकें. अब दोनों को गिरफ्तार कर वारदात में काम में ली गई बाइक को भी बरामद कर लिया गया है.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT