Rajasthan Politics: बिजली बिल, पेट्रोल के दाम और महंगाई के मुद्दे पर भजनलाल सरकार की वादाखिलाफी! गहलोत बोले- सामने आई सच्चाई

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद कांग्रेस नेता बीजेपी के खिलाफ हमलावर नजर आ रहे हैं. बीजेपी के भीतर भी सियासी हलचल तेज हो गई है. वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अब सीएम भजनलाल शर्मा को उनके वादे याद दिलाते नजर आ रहे हैं. राजस्थान (Rajasthan News) में पेट्रोल-डीजल की कीमतें और बढ़ती महंगाई को लेकर गहलोत ने बीजेपी सरकार को जमकर घेरा.

पूर्व सीएम ने कहा कि हमारी सरकार ने महंगाई राहत कैंप लगाकर जनता को 10 राहत भरी योजनाएं दी थीं. जिनमें 100 यूनिट घरेलू बिजली फ्री भी शामिल थी. इससे करीब 1.04 करोड़ उपभोक्ताओं का बिल शून्य हो गया था और महंगाई से बड़ी राहत मिली थी. 

 

 

गहलोत ने सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए कहा "इन योजनाओं को आगे बढ़ाने की गारंटी मोदी जी विधानसभा चुनावों में देकर गए, लेकिन राजस्थान सरकार इस गारंटी को झूठी साबित कर रही है. नए घरेलू बिजली उपभोक्ताओं और पूर्व में रजिस्ट्रेशन ना करवा पाने वाले उपभोक्ताओं के लिए नई सरकार ने कोई प्रक्रिया ही नहीं रखी है. जिससे करीब 30 लाख उपभोक्ता प्रभावित हो रहे हैं." 

"इस सरकार की नीयत का है रियलिटी चेक"

उन्होंने कहा कि राजस्थान की बीजेपी सरकार ना तो वादे के मुताबिक पेट्रोल-डीजल की कीमतें गुजरात और हरियाणा के समान कर सकी है, ना ही महंगाई से राहत देने के लिए पहले से चल रहीं योजनाओं को मजबूत कर सकी है. यही इस सरकार की नीयत का रियलिटी चेक है, जिससे जनता के सामने इनकी सच्चाई आ रही है.

यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT