राहुल कस्वां के चुनाव जीतने के बाद क्यों बढ़ानी पड़ी राजेंद्र राठौड़ के घर की सुरक्षा? सामने आई ये बड़ी वजह

Vijay Chauhan

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Churu Lok Sabha Election result: चूरू लोकसभा सीट से राहुल कस्वां (Rahul Kaswan) ने बीजेपी के देवेंद्र झाझड़िया (Devendra Jhajhariya) को बड़े अंतर से हरा दिया है. इसके बाद इलाके में सियासी सरगर्मी बढ़ गई है. राहुल कस्वां की जीत के बाद कुछ ऐसा हुआ कि बीजेपी के दिग्गज नेता राजेंद्र राठौड़ (Rajendra Rathore) के घर की सुरक्षा को बढ़ाना पड़ा. इस दौरान सुरक्षा में लगी पुलिस के भी हाथ-पांव फूल गए.

दरअसल, लोकसभा चुनाव के परिणाम के बाद कांग्रेस के राहुल कस्वा ने विजय जुलूस निकला. जुलूस में काफी संख्या में युवा और कस्वां के समर्थन थे. तीन डीजे के साथ निकाला गया जुलूस राजेंद्र राठौड़ के सैनिक बस्ती स्थित निवास के सामने से जाना था जिसको देखते हुए पुलिस प्रशासन ने राठौड़ के घर की सुरक्षा के लिए डीवाईएसपी के नेतृत्व में जाप्ता लगाया गया.

 

 

राठौड़ के घर के सामने नाचने लगे कस्वां समर्थक

जैसे ही जुलूस राजेंद्र राठौड़ के निवास के सामने पहुंचा, वैसे ही कस्वां समर्थक उनके निवास के सामने डीजे को रोककर नाचने लगे. मामला बिगड़ता देख पुलिस जाप्ते ने समझाइश कर समर्थकों को आगे रवाना किया. लगभग 15 मिनट तक डांस करने के बाद जुलूस राठौड़ के निवास के सामने से निकला, तब जाकर कहीं पुलिस प्रशासन ने चेन की सांस ली.

राठौड़ व कस्वां में सियासी अदावत की ये है वजह

दरअसल, लोकसभा चुनाव से पहले राहुल कस्वां बीजेपी में थे. साल 2023 के विधानसभा चुनाव में 7 बार के विधायक राजेंद्र राठौड़ तारानगर से चुनाव हार गए थे. उनके समर्थकों ने हार का ठीकरा राहुल कस्वां पर फोड़ा था और उन्हें 'जयचंद व विभिषण' बताया था. इसके बाद लोकसभा चुनाव में राहुल कस्वां का टिकट कट गया जिसके पीछे राजेंद्र राठौड़ को बताया गया. इसके बाद राहुल कस्वां ने बीजेपी छोड़कर कांग्रेस जॉइन कर ली और चूरू से बीजेपी के देवेंद्र झाझड़िया के खिलाफ चुनाव लड़ा.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

72 हजार से ज्यादा वोटों से हारे देवेंद्र झाझड़िया

चूरू लोकसभा सीट पर नतीजे काफी चौंकाने वाले आए हैं. राहुल कस्वां ने बीजेपी के प्रत्याशी देवेंद्र झाझरिया को 72 हजार 737 वोट से हरा दिया है. कांग्रेस के राहुल कस्वां को 7 लाख 28 हजार 211 जबकि भाजपा के देवेंद्र झाझरिया को 6 लाख 55 हजार 474 वोट मिले हैं. बता दें कि इस सीट पर लोकसभा चुनाव 2019 में राहुल कस्वां ने कांग्रेस के प्रत्याशी रफीक मंडेलिया को 3 लाख 34 हजार 402 वोट से हराया था. इस चुनाव में बीजेपी की ओर से देवेन्द्र झाझड़िया और कांग्रेस की तरफ से राहुल कस्वां मैदान में थे. दोनों के बीच कड़ी टक्कर बताई जा रही थी, लेकिन परिणाम कांग्रेस के विपरीत आए हैं.
 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT