राजेश पायलट पर टिप्पणी को लेकर कांग्रेस नेता ने अमित मालवीय पर दर्ज करवाई FIR

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

राजेश पायलट पर टिप्पणी को लेकर कांग्रेस नेता ने अमित मालवीय पर दर्ज करवाई FIR
राजेश पायलट पर टिप्पणी को लेकर कांग्रेस नेता ने अमित मालवीय पर दर्ज करवाई FIR
social share
google news

FIR Loged On Amit Malviya: पूर्व केंद्रीय मंत्री और सचिन पायलट (sachin pilot) के पिता राजेश पायलट (rajesh pilot) पर टिप्पणी करने को लेकर बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय (amit malviya) पर कोटा के कांग्रेस नेता कुंदन यादव ने मुकदमा दर्ज करवाया है. उन्होंने कोटा सिटी के एसपी से मिलकर अमित मालवीय के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की भी मांग की है.

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य कुंदन यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा, “देश के लिए जीवन समर्पित करने वाले, जय जवान जय किसान का नारा बुलंद करने वाले, महान शख्सियत, देश के गौरव स्वर्गीय श्री राजेश पायलट साहब के खिलाफ बीजेपी आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने गलत बयानबाजी की है. देश व समाज की महान शख्सियत के साथ-साथ अमित मालवीय ने भारतीय सेना का भी अपमान किया है जो देशद्रोह की श्रेणी में आता है.”

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

राजेश पायलट ने मिजोरम में बम गिराए: अमित मालवीय

बीजेपी नेता अमित मालवीय ने ट्वीट कर कहा था- ”राजेश पायलट और सुरेश कलमाड़ी भारतीय वायुसेना (Indian air force) के उन विमानों को उड़ा रहे थे जिन्होंने 5 मार्च 1966 को मिज़ोरम (mizoram) की राजधानी आइज़वाल पर बम गिराये. बाद में दोनों कांग्रेस के टिकट पर सांसद और सरकार में मंत्री भी बने. स्पष्ट है कि नार्थ ईस्ट में अपने ही लोगों पर हवाई हमला करने वालों को इंदिरा गांधी (indira gandhi) ने बतौर इनाम राजनीति में जगह दी, सम्मान दिया.”

सचिन पायलट ने दिया था मालवीय को जवाब

13 अगस्त को किए गए इस ट्वीट का जवाब देते हुए सचिन पायलट ने एक लेटर शेयर किया. साथ ही उन्होंने लिखा- ‘आपके पास गलत तारीखें, गलत तथ्य हैं…हां, भारतीय वायु सेना के पायलट के रूप में मेरे दिवंगत पिता ने बम गिराए थे, लेकिन वो 1971 के भारत-पाक युद्ध के दौरान उस वक्त के पूर्वी पाकिस्तान पर था, न कि 5 मार्च 1966 को मिज़ोरम पर, जैसा कि आप दावा करते हैं. स्व. श्री राजेश पायलट जी दिनांक 29 अक्टूबर, 1966 को भारतीय वायु सेना में कमीशन हुए थे।(प्रमाणपत्र संलग्न)स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएँ, जय हिन्द.’

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

सीएम गहलोत ने भी की थी इस बयान की निंदा

सीएम गहलोत ने अमित मालवीय को जवाब देते हुए ट्वीट कर लिखा था, “कांग्रेस नेता श्री राजेश पायलट भारतीय वायुसेना के वीर पायलट थे. उनका अपमान करके भाजपा भारतीय वायुसेना के बलिदान का अपमान कर रही है. इसकी पूरे देश को निंदा करनी चाहिए.”

अमित मालवीय ने क्यों किया ये ट्वीट?

दरअसल संसद में विपक्षी दल I.N.D.I.A. के अविश्वास प्रस्ताव का जवाब देते हुए गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना का जिक्र किया था. पीएम मोदी ने राहुल गांधी के उस सुझाव का जवाब दिया जिसमें उन्होंने मणिपुर में सेना उतारकर वहां हिंसा रोकने की बात की थी. पूर्वोत्तर भारत में कांग्रेस की नीतियों का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने साल 1962 में मिजोरम में इंडियन एयर फोर्स की बमबारी का जिक्र किया. उस वक्त इंदिरा गांधी की सरकार थी. इसी मामले को आगे बढ़ाते हुए बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट कर ये लिखा कि इंडियन एयरफोर्स के वो विमान राजेश पायलट और सुरेश कलमाड़ी उड़ा रहे थे.

यह भी पढ़ें: नेहरू मेमोरियल का नाम बदलने पर छिड़ा संग्राम, CM गहलोत ने भी ट्वीट कर उठाए सवाल

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT