पूर्व मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने पत्नी-बेटे के खिलाफ दर्ज करवाई FIR, करोड़ों रुपये के हीरे-जवाहरात चोरी करने का है आरोप

Suresh Foujdar

ADVERTISEMENT

Maharaja Vishvendra Singh
Maharaja Vishvendra Singh
social share
google news

राजस्थान के भरतपुर में पूर्व राजपरिवार (bharatpur royal family) के सदस्यों के बीच लंबे समय से विवाद चल रहा है. शुक्रवार को इस मामले ने अलग मोड ले लिया. पूर्व राजपरिवार के सदस्य एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह (former minister vishvendra singh) ने अपनी पत्नी दिव्या सिंह और पुत्र अनिरुद्ध सिंह के खिलाफ शहर के मथुरा गेट थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है.

पूर्व मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने आरोप लगाया है कि उनकी पत्नी और बेटे ने दिल्ली स्थित बैंक लॉकर से 10 किलो सोना और हीरे-जवाहरात चोरी किए हैं. दिव्या सिंह और अनिरुद्ध सिंह ने वर्ष 2020 से वर्ष 2024 के बीच में 16 बार लॉकर को खोला था और सामान निकाल लिया था. लॉकर में रखे स्वर्ण-आभूषण करोड़ों रुपए के हैं.

पत्नी-बेटे के ट्रस्ट की सदस्यता से त्यागपत्र देने का किया दावा

विश्वेंद्र सिंह ने शिकायत दर्ज कराते हुए लिखा है कि भरतपुर रॉयल फैमिली रिलिजियस एवं सेरेमोनियल ट्रस्ट एक पंजीकृत ट्रस्ट है जिसमें दिव्या सिंह और अनिरुद्ध सिंह सदस्य थे. दिव्या सिंह और अनिरुद्ध सिंह परिवादी के पत्नी और पुत्र हैं लेकिन उन्होंने ट्रस्ट की सदस्यता से त्यागपत्र दे दिया था. इसलिए उनकी ट्रस्ट से सदस्यता 19 मार्च 2024 को समाप्त हो चुकी है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

दिल्ली की डिफेंस कॉलोनी में है लॉकर

विश्वेंद्र सिंह का कहना है कि उन्होंने 2 अप्रैल 2011 को जयपुर के मोहित ज्वेलर्स से 10 किलो सोना खरीदा था और भरतपुर में उसको सुरक्षित रखने की समुचित व्यवस्था नहीं थी. इसलिए सुरक्षा की दृष्टि से सोने को New Delhi Vault Limited,D-70 Defence Colony,New Delhi में लॉकर संख्या 1402 मैं रख दिया था जिसमें अन्य आभूषण भी रखे हुए थे. 

यह लॉकर विश्वेंद्र सिंह उनकी पत्नी और पुत्र तीनों के नाम से खोला गया था. वर्ष 2019 तक लॉकर में रखे स्वर्ण और आभूषण सुरक्षित देखे गए थे मगर वर्ष 2020 में शिकायतकर्ता का अपनी पत्नी और पुत्र के बीच विवाद हो गया था. पत्नी और पत्नी शिकायतकर्ता विश्वेन्द्र सिंह के साथ मारपीट की और उनको महल से बाहर निकाल दिया था.

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT