सांसद बनते ही एक्टिव हो गए हनुमान बेनीवाल और बीजेपी पर जमकर बरसे! आरएलपी सुप्रीमो ने बता दिया अगला प्लान

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

जाटलैंड की चर्चित सीट नागौर में इस बार मुकाबला रोचक रहा. जहां कांग्रेस की बागी नेता डॉ. ज्योति मिर्धा को बीजेपी ने चुनावी मैदान में उतारा. उन्हें कांग्रेस समर्थित आरएलपी संयोजक हनुमान बेनीवाल (Hanuman Beniwal) ने शिकस्त दी. बेनीवाल की जीत के चर्चे पूरे राजस्थान में हो रहे हैं. कयास ये भी लगाए जा रहे थे कि बेनीवाल इंडिया गठबंधन से नाराजगी के चलते दूर हो सकते हैं. हालांकि उन्होंने नाराजगी तो खुलकर जाहिर की, लेकिन साथ ही यह भी कहा कि वह गठबंधन का हिस्सा बने रहेंगे. 

निर्वाचित होने के बाद सांसद बेनीवाल ने नागौर आवास पर जनसुनवाई की. इस दौरान नागौर सहित विभिन्न जिलों के लोगों ने बेनीवाल का अभिनंदन किया. राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के सुप्रीमों ने सड़क, पेयजल और विद्युत से जुड़ी समस्याओं को सुनकर मौके पर ही निस्तारण के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश भी दिए. 

जीत को लेकर उन्होंने कहा कि नागौर की जनता ने लगातार दूसरी बार आशीर्वाद देकर देश की सबसे बड़ी पंचायत में भेजा है. वो जनता की उम्मीदों पर पूरा खरा उतरेंगे. साथ ही उन्होंने कहा "सेना में अग्निपथ जैसी योजना लाकर मोदी सरकार ने युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है. ऐसे में पहले भी अग्निपथ को वापस लेने की बात उठाई थी और अब फिर से देश की लोकसभा में इस बात को वो उठाएंगे." 

आरएलपी सुप्रीमो ने कहा कि देश की संसद में नागौर सहित प्रदेश के तमाम उन मुद्दों को प्राथमिकता से उठाऊंगा, जो वर्षो से निस्तारण के लिए लंबित है. इस दौरान उन्होंने खींवसर विधानसभा के ग्राम मुंदियाड़ में गजानंदजी महाराज के मंदिर में आशीर्वाद भी लिया. 

यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT