पूर्वी राजस्थान में बीजेपी का सूपड़ा साफ! भजनलाल और किरोड़ी के घर तक में हार गई बीजेपी, जानें

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

राजस्थान की सभी लोकसभा सीटों पर चुनाव के नतीजे (Rajasthan Election Result 2024) सामने आ चुके हैं. राजस्थान की 25 लोकसभा सीटों में 1-2 सीटों को छोड़ कर बाकी सभी पर बीजेपी के जीतने के चांस ज्यादा माने जा रहे थे. लेकिन हुआ ये कि भजनलाल शर्मा (Bhajanlal Sharma) और किरोड़ीलाल मीणा (Kirodilal Meena) के गढ़ में भी भारतीय जनता पार्टी का सूपड़ा साफ हो गया. राजस्थान की पूर्वी लोकसभा सीटों में अलवर लोकसभा सीट को छोड़ कर अन्य सीटों पर बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा है. प्रदेश के पूर्वी हिस्से में बीजेपी की इस करारी हार के बाद सीएम भजनलाल शर्मा के लिए खतरे की घण्टी बज चुकी है.

बीजेपी ने पूर्वी राजस्थान की लोकसभा सीटों पर प्रभूत्व स्थापित करने के लिए सीएम भजनलाल शर्मा पर बड़ी जिम्मेदारी थी. लेकिन वह पार्टी की उम्मीदों पर खरे नहीं उतर पाये. नतीजा यह रहा कि अलवर लोकसभा सीट को छोड़कर किसी भी सीट पर भाजपा जीतने में सफल नहीं हुई

 

 

अपने गृह जिले की सीट भी नहीं बचा पाए भजनलाल  

पूर्वी राजस्थान में अलवर, टोंक-सवाई माधोपुर, दौसा, भरतपुर और करौली-धौलपुर लोकसभा सीट आती है.  मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा से प्रदेश की इन पूर्वी सीटों पर जीत की बड़ी उम्मीद थी. लेकिन, सीएम भजनलाल शर्मा अपने गृह जिले की लोकसभा सीट भी नहीं बचा पाए. राजस्थान में बीजेपी की बड़ी हार के बाद लोग तमाम तरीके के कयास लगा रहे हैं. लोगों का कहना है कि बीजेपी की इस हार के बाद सीएम भजनलाल शर्मा की कुर्सी खतरें में है. वहीं, मंत्री किरोड़ीलाल मीणा के इस्तीफे वाला बयान भी काफी तेजी से वायरल हो रहा है.

प्रदेश की इन 4 लोकसभा सीटों में से दो सीटें भरतपुर और करौली-धौलपुर SC आरक्षित थी. वहीं, दौसा लोकसभा सीट ST आरक्षित थी. प्रदेश की 25 लोकसभा सीटों में से 14 पर बीजेपी,10 पर इंडिया गठबंधन और एक सीट पर भारत आदिवासी पार्टी ने जीत दर्ज की है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

4.83 लाख वोटों से जीते भूपेंद्र यादव

अलवर लोकसभा सीट पर बीजेपी के भूपेंद्र यादव ने 4 लाख 82 हजार 282 वोट से कांगेस के ललित यादव को करारी शिकस्त दी है. वहीं, शेष सभी सीटों पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की है. टोंक-सवाई माधोपुर सीट पर हरीश चंद्र मीणा ने बीजेपी के प्रत्याशी सुखबीर सिंह जौनापुरिया को 6 लाख 49 हजार 49 वोटों से हराया है. वहीं, दौसा से कांग्रेस के मुरारी लाल मीणा, भरतपुर से संजना जाटव, करौली-धौलपुर से भजनलाल जाटव ने भारतीय जनता पार्टी को करारी शिकस्त दी है. हालांकि, आपको बता दें पिछले साल प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव में इन सभी लोकसभा सीटों में आने वाली विधानसभा सीटों पर बीजेपी ने शानदार जीत दर्ज की थी.

राहुल कस्वां के चुनाव जीतने के बाद क्यों बढ़ानी पड़ी राजेंद्र राठौड़ के घर की सुरक्षा? सामने आई ये बड़ी वजह

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT