Rajasthan Elections: राजस्थान में BJP को क्यों हुआ 11 सीटों का नुकसान, प्रशांत किशोर ने बता दी ये बड़ी वजह

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Prashant Kishore
Prashant Kishore
social share
google news

Rajasthan Elections Result: लोकसभा चुनाव के नतीजे आ गए. बीजेपी का राजस्थान में 11 सीटों का नुकसान हुआ है. पिछले 1 दशक बाद बीजेपी को राजस्थान में सबसे बड़ा झटका लगा है. जहां हाल ही में विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 200 में 115 सीटें जीतकर सरकार बनाई थी. वहां बीजेपी ने 11 सीटें गंवा दी. ऐसे में इस नुकसान को लेकर चर्चाएं हो रही है. इसी बीच इंडिया टुडे को दिए इंटरव्यू में प्रशांत किशोर ने राजस्थान में बीजेपी के खराब प्रदर्शन और कांग्रेस की वापसी पर बयान दिया है.

इंडिया टुडे से बातचीत करते हुए प्रंशात किशोर ने कहा कि बीजेपी का राजस्थान में पिछले 1 दशक में अच्छा प्रदर्शन रहा, जिसके चलते वह 10 वर्षों में एक भी सीट नहीं हारी. वहीं इस चुनाव में बीजेपी को 11 सीटों का नुकसान हुआ. जबकि विधानसभा चुनाव में बीजेपी का अच्छा प्रदर्शन रहा. पीके ने कहा कुछ लोग मानते हैं कि नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता गुजरात से अधिक राजस्थान में है. लेकिन फिर भी यहां बीजेपी को 11 सीटों का नुकसान हुआ. 

'राजस्थान एक केस स्टडी है'

प्रशांत किशोर ने राजस्थान को लेकर कहा कि राजस्थान एक केस स्टडी है. जहां बीजेपी विधानसभा चुनाव जीतने के बाद भी यहां हार गई. यह बीजेपी के मिस मैनेजमेंट के कारण हुआ. पीके ने कहा कि जहां तक मुझे लग रहा है, विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी ने पावर का डिस्ट्रीब्यूसन किया है, उससे लोग महसूस कर रहे हैं कि उन्हें कुछ नहीं मिला. ये सिर्फ मुख्यमंत्री की बात नहीं है. हर समुदाय ने बीजेपी को सपोर्ट किया लेकिन अब चाहे वो गुर्जर समुदाय हो, चाहे मीणा, राजपूर या आदिवासी. सभी महसूस कर रहे हैं कि उन्हें कुछ नहीं मिला. राजस्थान एक केस स्टडी है. 

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

राजस्थान में भाजपा को नुकसान

राजस्थान में बीजेपी को 11 सीटों पर नुकसान उठाना पड़ा है. जहां पिछले 2 चुनावों में लगातार 25-25 सीटें बीजेपी जीत रही थी. अब बीजेपी की सीटें 14 हो गई हैं. इस बार प्रदेश में 8 सीटें कांग्रेस को मिली है, वहीं कांग्रेस के सहयोगी दलों को 3 सीटें मिली है.

राजस्थान में किसका कितना वोट शेयर

  • बीजेपी का वोट शेयर-  49.24%
  • कांग्रेस का वोट शेयर 37.91%
  • आरएलपी - 1.80%
  • माकपा - 1.97%
  • बसपा - 0.74%

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT