कौन होगा सीएम फेस? वसुंधरा राजे के करीबी नेता बोले- बीजेपी को सिर्फ वो ही पार नहीं लगा सकती!

विशाल शर्मा

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

BJP Leader Statement: राजस्थान में चुनावी साल के लिहाज से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अजमेर दौरा है और उसकी तैयारियों में पूरी बीजेपी एकजुट होकर जुटी हुई है. लेकिन कांग्रेस की तरह बीजेपी में भी खेमेबाजी हावी रहती है. ऐसे में पीएम के दौरे पर ऐसी स्थिति ना हो की गुटबाजी नजर आए, इसके लिए हर कोई भीड़ जुटाने में लगा है. चाहें वो वसुंधरा राजे गुट हो या फिर बाकि खेमा हर कोई एक्टिव नजर आ रहा है, लेकिन वसुंधरा राजे के करीबी कालीचरण सराफ ने वसुंधरा को लेकर हैरान कर देने वाला बयान दिया है. उन्होंने कहा कि कौन कहना है कि वसुंधरा राजे ही पार लगा सकती है.

राजस्थानी तक से खास बातचीत करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के करीबी वर्तमान मालवीयनगर विधायक व पूर्व मंत्री कालीचरण सराफ ने कहा कि प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर कार्यकर्ताओ में उत्साह है और इससे लगता है कि 2 लाख से ज्यादा भीड़ वहां उमड़ेगी.

वहीं, जयपुर से भी करीब 20 हजार लोग पीएम मोदी को सुनने अजमेर जाएंगे. लोगों में इंतजार है कि कब चुनाव आए और कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो. उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कांग्रेस सरकार रिपीट करने के बयान का पलटवार करते हुए कहा कि यह मुंगेरी लाल के हसीन सपने जैसा है. इस बार बीजेपी विधानसभा चुनाव जीतेगी और पिछली बार 163 सीट आई थी, लेकिन अबकी 185 सीट आएगी. वही मुख्यमंत्री कौन होगा इसके सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वो सेंट्रल बोर्ड तय करेगा.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

मैं बीजेपी और वसुंधरा, दोनों का करीबी- सराफ
वसुंधरा राजे के करीबी कह जाने वाले कालीचरण सराफ ने कहा कि मैं सबके करीबी हूं और मैं बीजेपी के भी ज्यादा करीबी हूँ. पार्टी में कोई गुटबाजी नहीं है. क्योंकि बीजेपी एक थी, एक है और एक ही रहेंगी. वसुंधरा राजे को नजरअंदाज करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि छोटी-छोटी बैठकों में वो नहीं आती है, कोई उन्हें नजरअंदाज नहीं कर रहा यह सिर्फ गलतफहमी है. वसुंधरा राजे को उसी प्रकार अहमियत दी जा रही है और वो पार्टी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी है. इसके आलावा वसुंधरा राजे के खेमे से राजे को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने की मांग को लेकर कालीचरण सराफ ने कहा कि कौनसा कार्यकर्ता कहता है कि वसुंधरा राजे ही पार पटक सकती है. यह कपोल कल्पित बात है.

यह भी पढ़ेंः भरतपुर शहर से 51 साल बाद जाट प्रत्याशी को टिकट देगी बीजेपी, चुनाव से 6 महीने पहले ही कर दिया ऐलान

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT