Rajasthan: भजनलाल सरकार का बड़ा आदेश, गहलोत सरकार में भर्ती हुए लाखों कर्मचारियों की बढ़ी टेंशन!

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Rajasthan: लोकसभा के चुनाव खत्म हो चुके हैं, राजस्थान में बीजेपी बहुत अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई है. इस बीच इस बात की चर्चा जोरों पर है कि बीजेपी की इतनी कम सीटें ना आने का खामियाजा किसको उठाना पड़ेगा.

social share
google news

Rajasthan: लोकसभा के चुनाव खत्म हो चुके हैं, राजस्थान में बीजेपी बहुत अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई है. इस बीच इस बात की चर्चा जोरों पर है कि बीजेपी की इतनी कम सीटें ना आने का खामियाजा किसको उठाना पड़ेगा, आखिर किस पर गिरेगी पार्टी आलाकमान की गाज, कोई वसुंधरा का नाम ले रहा है तो कोई सीएम भजनलाल का. इस बीच बीच सीएम भजनलाल ने एक बड़ा फैसला कर दिया.

सीएम ने कहा है कि गहलोत सरकार में भर्ती हुए कर्मचारियों की होगी जांच और अगर फर्जीवाड़ा पाया जाता है तो कड़ा एक्शन भी होगा. भजनलाल सरकार ने पिछले 5 वर्षों में भर्ती हुए कर्मचारियों की आंतरिक विभागीय जांच का निर्णय लिया है.सरकार जांच कर ये पता लगाएगी कि परीक्षा देने वाला व्यक्ति ही नौकरी कर रहा है या नहीं. भजनलाल सरकार ने जांच का ये आदेश जारी भी कर दिया है.  

कार्मिक भर्ती प्रकोष्ट विभाग ने ये आदेश निकाला है, आदेश में लिखा है कि "राज्य सरकार के ध्यान में लाया गया है कि विगत पांच साल में अलग-अलग विभागों में की गई भर्तियों में फर्जी शैक्षणिक योग्यता के दस्तावेज प्रस्तुत कर और डमी उम्मीदवार को परीक्षा में बिठाकर अभ्यर्थियों द्वारा सरकारी नौकरियां प्राप्त की गई हैं. यानि चुनाव खत्म होने के बाद अब सीएम भजनलाल फुल एक्शन में आ गए हैं, और करप्शन की हर कलई खोलने का मन बना चुके हैं. 

ADVERTISEMENT

यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT