Barmer: कांग्रेस-बीजेपी और RLP के बीच घमासान, हरीश चौधरी के लिए मुसीबत पैदा करेंगे बालाराम मूढ़?

Dinesh Bohra

ADVERTISEMENT

Barmer: कांग्रेस-बीजेपी और RLP के बीच घमासान, हरीश चौधरी के लिए मुसीबत पैदा करेंगे बालाराम मूढ़?
Barmer: कांग्रेस-बीजेपी और RLP के बीच घमासान, हरीश चौधरी के लिए मुसीबत पैदा करेंगे बालाराम मूढ़?
social share
google news

Barmer: बीजेपी ने विधानसभा चुनाव (Rajasthan Assembly Election) में कांग्रेस के बड़े नेताओं को घेरने के लिए बड़ी रणनीति बनाई है। इसी कड़ी बायतु विधानसभा (Baytoo Assembly) सीट पर हरीश चौधरी (Harish Chaudhary) और हनुमान बेनीवाल (Hanuman Beniwal) की पार्टी आरएलपी को घेरने के लिए बीजेपी ने 20 साल के पुराने कार्यकर्ता बालाराम मूढ़ पर भरोसा किया है.

2018 विधानसभा चुनाव के दौरान बायतु विधानसभा सीट पर हनुमान बेनीवाल की पार्टी की एंट्री के चलते भाजपा तीसरे नंबर पर चली गई थी. उस दौरान बीजेपी के कैलाश चौधरी तीसरे नंबर रहे थे और चुनाव हार गए थे. हालांकि, अगले चार महीने बाद ही बीजेपी ने कैलाश चौधरी को बाड़मेर जैसलमेर लोकसभा में उतारा था और कैलाश चौधरी करीब तीन लाख के करीब वोटों के अंतराल से जीत गए थे. जो वर्तमान में केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री है.

ऐसे में बायतु विधानसभा सीट पर बीजेपी ने बालाराम मूढ़ पर भरोसा जताया. बालाराम मूढ़ पूरी तरीके से हरीश चौधरी और आरएलपी को टक्कर देने की तैयारी कर रहे हैं. लगातार सक्रिय होने के चलते बालाराम मूढ़ की पूरे विधानसभा के अंदर एक अलग ही पैठ है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

बाड़मेर के जिला उपाध्यक्ष पद पर हैं मूंढ

बालाराम मूंढ किसान और पार्टी में अहम पदों पर भी रहे हैं. 2011 से 2013 तक भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य भी रहे. इसके अलावा 2003 से 2006 किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष भी रहे. मूंढ़ की RSS से भी नजदीकियां हैं वर्तमान में बालाराम बाड़मेर भाजपा जिला उपाध्यक्ष हैं.

Rajasthan Election 2023 Breaking: वोटिंग की तारीख बदली, 23 की जगह अब 25 नवंबर को होगा चुनाव

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT