वीडियो

राजस्थानः भारत जोड़ो यात्रा की तैयारी, कांग्रेस में जारी है पोस्टर वार!

Rajasthan News: भारत जोड़ो यात्रा को सफल बनाने में जुटी राजस्थान कांग्रेस में सियासी कलह खत्म होता नजर नहीं आ रहा है. सीएम अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच चल रही जंग जारी है. किसी न किसी मौके पर दोनों नेताओं और उनके समर्थकों में सियासी वार देखने को मिल ही जाता है. अब यह जुबानी जंग पोस्टर वार में बदल गई है. हालांकि आलाकमान मौके-मौके पार्टी के तनाव को दूर होने के संकेत देता रहता है. बीतें 29 नवम्बर को पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल ने गहलोत-पायलट के हाथ थामे कुछ ऐसा ही संदेश दिया.

दोनो नेताओं के हाथ खड़े करवाने के साथ ही कहा कि कांग्रेस एकजुट है. संदेश और संकेत देने की जो कोशिश की जा रही है. लेकिन भारत जोड़ो यात्रा के प्रवेश द्वार झालावाड़ में एक बार फिर पार्टी की अंदरूनी कलह सामने आई है. जहां कुछ ऐसे नजारे देखने को मिले. सचिन पायलट भले ही खामोश हो, लेकिन उनके समर्थक कह रहे हैं कि नेता तो सिर्फ सचिन पायलट हैं. वजह यही है कि राहुल गांधी की यात्रा जिस झालावाड़ से एंट्री करेगी, वहां सिर्फ पायलट की ही तस्वीरें है.

चवली गांव से लेकर झालावाड़ शहर तक सैकड़ों पोस्टर्स-होर्डिंग्स लगे हुए हैं. इन पोस्टर्स-होर्डिंग्स में राहुल गांधी के साथ बड़ी तस्वीर सचिन पायलट की भी नजर आ रही है. खास बात यह है कि इन पोस्टर में गहलोत के कद को काफी कम दिखाया है.

फिर सामने आई पार्टी की अंदरूनी कलह, पोस्टर से नदारद डोटासरा
अब ऐसे में जब आज भारत जोड़ो यात्रा मध्य प्रदेश से झालावाड़ जिले के चवली गांव से राजस्थान में प्रवेश करेगी. तो पूरे रास्ते में सड़क किनारे और चौराहे पर लगे बड़े-बड़े होर्डिंग्स राजस्थान की सियासी तस्वीर भी बयां कर रहे होंगे. राहुल गांधी के स्वागत में स्थानीय नेताओं की ओर से लगाए गए पोस्टर्स और होर्डिंग्स में राहुल के साथ सचिन पायलट की बड़ी तस्वीरें है. कुछ में प्रियंका गांधी,  पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, सोनिया गांधी, पूर्व पीएम डॉ. मनमोहन सिंह भी है. जबकि संगठन के मुखिया प्रदेशाध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा तो पोस्टर से ही नदारद है.

भले ही पार्टी आलाकमान कह रहा है कि कांग्रेस में सब कुछ ठीक है. लेकिन गहलोत-पायलट के कट्टर समर्थक इस संदेश को स्वीकार नहीं करना चाहते. भारत जोड़ो यात्रा का कारवां गुर्जर बाहुल्य क्षेत्रों से गुजरेगा. जहां सचिन पायलट समर्थक नेता लगातार मांग कर रहे हैं कि उनके नेता की जल्द से जल्द ताजपोशी हो. कई विधायक बयान भी दे चुके हैं कि अगर सचिन पायलट को मुख्यमंत्री नहीं बनाया गया, तो कांग्रेस को बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ेगा.

गुढ़ा भी दे चुके हैं पायलट के पक्ष में बयान
अक्सर बयानों से चर्चा में रहने वाले राज्यमंत्री राजेन्द्र गुढा तो यहां तक कह चुके हैं कि पायलट ही ऐसे नेता हैं, जिनके नेतृत्व में कांग्रेस की सत्ता में वापसी हो सकती है. उनका कहना है कि बिना कुछ फैसला किए ही कांग्रेस हाईकमान ने गहलोत और पालयट में सुलह की बात कही है. लेकिन इससे पायलट समर्थकों में काफी निराशा है.

जानिए कौन हैं खूबसूरत IAS परी बिश्नोई जो करने जा रही हैं बीजेपी MLA से शादी पंडित धीरेंद्र शास्त्री पर केस दर्ज, कुंभलगढ़ किले को लेकर दिया ये विवादित बयान, जानें महाराणा प्रताप के वंशज की BJP में जाने की चर्चाएं तेज, ऑस्ट्रेलिया से की है पढ़ाई जैसलमेर के ये 5 प्लेस हैं इतने खास कि मिस करना होगी बड़ी भूल, जानें पूरी डिटेल मात्र 2 घंटे में दिल्ली से जयपुर, वंदे भारत एक्सप्रेस का शेड्यूल जारी, देखें डिटेल राजस्थान: कौन हैं गायत्री विश्नोई, जिन्हें केजरीवाल ने सौंपी बड़ी जिम्मेदारी राजस्थान: उपप्रधान से कैसे बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष बने सीपी जोशी, देखें राजस्थान में इंटरकास्ट मैरिज करने पर अब मिलेंगे इतने लाख रुपये, जानें इस शाही ट्रेन में एक व्यक्ति का किराया है 18 लाख, अंदर महल जैसी सुविधाएं, देखें राजस्थान: CM गहलोत का बड़ा फैसला, किसानों को मिलेगी राहत, देखें कंगना उदयपुर में मनाएगी बर्थडे, इस खास जगह पर होगा सेलिब्रेशन, देखें राजस्थान की खूबसूरत IAS परी बिश्नोई ने बीजेपी MLA से की सगाई, देखें तस्वीरें नवरात्रि पर 200 लोग पड़े बीमार, IAS टीना डाबी ने ऐसे संभाला मोर्चा, देखें जया किशोरी ने बताया- क्या है विवाह? खुद की शादी को लेकर किया ये खुलासा ‘मैं ससुराल नहीं जाऊंगी…’ विदाई के बाद बीच रास्ते अड़ गई दुल्हन, जानें पूरा मामला नवरात्रि में पूजा करने उदयपुर के इस मंदिर में पहुंची कंगना रनौत, जानें क्या है मान्यता झालावाड़ में तोते भी हुए नशेड़ी, अफीम खाकर ऐसे रहते हैं मदमस्त, देखें इलाज से किया इनकार तो बढ़ेंगी हॉस्पिटल की मुश्किलें, जानें राइट टू हेल्थ की डिटेल IAS टीना की राह पर छोटी बहन रिया डाबी भी, देखें तस्वीरें राजस्थान से गुजर रहे देश के सबसे बड़े एक्सप्रेसवे के नाम हैं कई रिकॉर्ड्स, यहां जानें