पेपर लीक मामले में 1 लाख का इनामी शेर सिंह मीणा ओडिशा से गिरफ्तार, हो सकते हैं कई बड़े खुलासे, जानें

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Paper Leak Case: सेकेंड ग्रेड टीचर परीक्षा पेपर लीक मामले में राजस्थान पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. एसओजी ने इस मामले में आरोपी शेर सिंह मीणा को ओडिशा से गिरफ्तार किया है. एसओजी आईजी सत्येन्द्र सिंह के निर्देशन में इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया. पेपर लीक में नाम आने के बाद वह फरार चल रहा था.

गौरतलब है कि जयपुर के चौमूं स्थित दौला का बास निवासी शेर सिंह मीणा आबूरोड के सरकारी स्कूल में प्रिंसिपल था जिसे पेपर लीक में नाम आने के बाद निलंबित कर दिया गया था. शेर सिंह को पकड़ने के लिए सरकार ने एक लाख रुपये का इनाम रखा गया था. पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए लंबे समय से दबिश दे रही थी. गौरतलब है कि जेल में बंद मास्टर माइंड भूपेन्द्र सारण ने पूछताछ में बताया था कि उसने जयपुर के चौमू निवासी शेर सिंह मीणा से पेपर खरीदा था.

भूपेंद्र सारण ने स्वीकारी थी 40 लाख में पेपर खरीदने की बात
भूपेन्द्र सारण ने ही गिरफ्तारी के बाद शेरसिंह मीणा को लेकर कई राज उगले थे. उसके बाद से आगे की कड़ी का पता लगाने के लिए शेरसिंह का गिरफ्तार होना जरूरी था. तब से ही राजस्थान पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए लगातार प्रयास कर रही थी. आखिरकार पुलिस को सफलता मिल गई है. पुलिस से पूछताछ में सारण ने बताया था कि उसने शेर सिंह मीणा से 40 लाख रुपये में पेपर खरीदे थे.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

शेरसिंह से पूछताछ में हो सकते हैं कई बड़े खुलासे
राजस्थान पुलिस ने प्रेस नोट जारी कर बताया है कि आरोपी शेर सिंह मीणा को उड़ीसा से पकड़कर जयपुर लाया जा रहा है. उससे पूछताछ में यह भी पता लग सकता है कि आखिर शेरसिंह को सीनियर टीचर भर्ती का पेपर किसने उपलब्ध कराया. इसके अलावा पेपर लीक मामले में कई और बड़े नामों के सामने आने की संभावना है.

यह भी पढ़ें: फायरिंग कर जिस जगह से रखा अपराध की दुनिया में कदम, उसी जगह बैठकर रोए बदमाश, Video वायरल

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT