भीलवाड़ा: बोरवेल की जांच के लिए कुएं में उतरे दो भाईयों की मौत, तीसरा उन्हें देखने गया और वो भी नहीं बचा

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Bhilwara News: राजस्थान में भीलवाड़ा जिले के जोधडास गांव में बुधवार रात को 80 फुट गहरे एक कुएं में बोरवेल की जांच करते समय बिजली के करंट से कुएं में उतरे दो भाइयों सहित तीन युवकों की दर्दनाक मौत होने से गांव में मातम छा गया. रायला थाना प्रभारी सुनील चौधरी ने बताया कि जोधडास गांव के धन्ना गुर्जर के खेत के कुएं में बोरवेल का काम चल रहा था. जिसे देखने के लिए पहले सुरेश गुर्जर कुएं में उतरा.

काफी समय तक कुछ हलचल नहीं होने पर उसका भाई सोनू गुर्जर भी कुएं में उतर गया. दोनों भाई जब काफी वक्त गुजर जाने के बाद भी बाहर नहीं आए तब एक अन्य व्यक्ति शिव लाल गुर्जर भी कुएं में उतरा. कुएं में बिजली के करंट की चपेट में आने से तीनों के ही मौत हो गई. इन तीनों की मौत की खबर गांव में पहुंचने से हड़कंप मच गया और मौके पर भीड़ जमा हो गई.

यह भी पढ़ें: धौलपुर: नाबालिग साली के साथ दुष्कर्म, पिता-पुत्र पर गैंगरेप का आरोप, दोस्तों को भी बुलाते थे!

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

भीलवाड़ा जिला मुख्यालय से एफएसएल टीम मौके पर पहुंची रायला थाना अधिकारी सुनील चौधरी, तहसीलदार भंवर लाल सेन आदि ने मौके पर पहुंचकर देर रात को एसडीआरएफ की टीम के 3 घंटे के प्रयासों के बाद तीनों शव को बाहर निकलवाया. तीनों युवकों के शवों को रायला के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मैं पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया. एक ही गांव में एक साथ तीन मौतों से माहौल गमगीन हो गया. जब ओपनवेल में पानी नहीं आने पर उसके अंदर होरिजेंटल बोरवेल किया जाता है. इसी को देखने यह तीनों युवक कुए में उतरे थे और असमय काल के ग्रास में समा गए.

यह भी पढ़ें: राजस्थान में गहराया बिजली संकट, सीएम गहलोत बोले- किसानों की आपूर्ति के लिए उद्योगों की बिजली कटौती करें

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT