टेस्ट देने का कहकर हॉस्टल से निकला कोचिंग स्टूडेंट लापता, चंबल के किनारे मिला बैग, जंगलों में तलाश जारी

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Kota: कोटा में कोचिंग स्टूडेंट्स को लेकर प्रशासन चिंतित है. आए दिन छात्रों के साथ किसी अनहोनी की घटना सामने आती रहती है. जिसके पीछे एग्जाम के तनाव को वजह बताया जाता है. ऐसा ही एक और मामला सामने आया है, जिसने पुलिस को परेशान कर दिया है. 11 फरवरी रविवार से लापता कोचिंग के एक छात्र को पुलिस ढूंढने में नाकाम रही है. छात्र जेईई एग्जाम की तैयारी कर रहा था, सुबह से ही नगर निगम के गोताखोर और एनडीआरफ कि टीमें मोटर बोट से छात्र की तलाश कर रही है. हालांकि सर्च ऑपरेशन के दौरान छात्र का बैग और मोबाइल बरामद हुआ है.

पुलिस को यह सामान जिले के गडरिया महादेव मंदिर के पास मिला है. बैग में एक चाकू, रस्सी, पावर बैंक और अन्य सामान भी पाए गए. जिसे पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया. इससे पहले पुलिस ने हॉस्टल में रह रहे छात्र रचित सोंधिया के कमरे की तलाशी ली तो एक सुसाइड नोट अंग्रेजी में लिखा मिला था. इसमें चार लाइन लिखी है. जिसमें जिंदगी से परेशान होने के कारण गडरिया महादेव मंदिर की ओर जाने को लिखा है.

एनडीआरएफ की टीम ने बताया कि पुलिस टीम ने गडरिया कोटा (kota) के महादेव मंदिर के पास क्षेत्र में फॉरेस्ट टीम, पुलिस और नगर निगम टीम के साथ आसपास क्षेत्र में चंबल में तलाश किया गया. टीम ने शाम को 7:30 बजे तक पूरे एरिया में 14 किलोमीटर तक सर्च किया, लेकिन कोई सुराग नहीं लगा. बता दें कि कोचिंग छात्र (coaching student) रविवार 12:00 बजे से जवाहर नगर थाना इलाके से लापता है. वह टेस्ट के लिए निकला था, लेकिन टेस्ट देने नहीं गया.

सघन वन क्षेत्र और घाटी भी, चंबल में तलाश जारी

गोताखोरों ने आज सुबह से ही मोटर बोट से गराडिया महादेव इलाके के आसपास के सघन वन क्षेत्र और चंबल नदी में सर्च अभियान चलाया. इस जगह के आसपास  खतरनाक जंगली जानवर और घाटी भी है. ऐसे में यहां सर्च अभियान भी आसान नहीं है. जानकारी के मुताबिक लापता स्टूडेंट रचित सोंधिया (16) एमपी के राजगढ़ का रहने वाला है. कोटा में एक साल से रहकर JEE की तैयारी कर रहा है. रविवार दोपहर को साढ़े 12 बजे करीब हॉस्टल से टेस्ट देने की कहकर निकाला था. बैग भी साथ लेकर गया, लेकिन स्टूडेंट टेस्ट देने नही पहुंचा.

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ेंः JEE एग्जाम में पलक्ष गोयल जयपुर टॉपर, बोले- बाहर का खाना-पीना कर दिया था बंद, बताई ये वजह

    ADVERTISEMENT