जयपुर: गुलाबीनगरी की सड़कों पर निकला विंटेज कारों का कारवां, नजारा देख लोगों की आंखें ठहरी

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Jaipur news: राजधानी जयपुर की सड़कों पर रविवार को एक अलग ही नजारा देखने को मिला. गुलाबीनगरी में विंटेज कार रैली का आयोजन किया गया. कारों के इस महाकुंभ में आजादी से पहले और बाद के इतिहास की गवाह रही विंटेज कारों को शामिल किया. देश के चुनिंदा शहरों से विंटेज कारों का कारवां जब गुलाबीनगरी की सड़कों पर निकला तो लोगों की आंखें ठहर सी गई. इसमें 1913 से लेकर हर वो विंटेज कार थी जिसको देखकर हर कोई दांतों तले अंगुली दबाने पर मजबूर हो गया. इस दौरान लोगों में विंटेज कार की फोटो खींचने और उसके साथ सेल्फी लेने की भी होड़ देखी गई. इस प्रदर्शनी में दुनिया की जानी मानी गाड़ियों के निर्माता जिनकी बनायी हुई गाड़ियां रोल्स रॉयस, बेंटले, मर्सिडीज, कैडिलैक, जगुआर, एमजी, फोर्ड रही.

राजस्थान और देश के अलग-अलग हिस्सों से आई यह विंटेज कारें जयपुर स्थित जय महल होटल से रवाना हुईं. इसके बाद मुख्य मार्गों पर चमक बिखेरते हुए आगरा रोड होते हुए आमेर के एक रिसॉर्ट पहुंचीं. जहां हर साल की तरह इस बार भी राजपुताना ऑटोमोटिव स्पोर्ट्स कार क्लब जयपुर और पर्यटन विभाग व राजस्थान सरकार के सहयोग से 24वीं विंटेज क्लासिक कार की प्रदर्शनी की गई.

रोल्स रॉयस, बेंटले से लेकर लगजरी कार दिखी
क्लब अध्यक्ष दयानिधि कासलीवाल ने बताया कि विंटेज क्लासिक प्रदर्शनी को पर्यटन विभाग व राजस्थान सरकार के सहयोग से दो दशक से अधिक समय हो गया है. इस रैली का सबसे महत्वपूर्ण मकसद आने वाली पीढियों को इन धरोहर कारों को दिखाना और संरक्षित करना है. वहीं क्लब के सचिव अविजित सिंह ने बताया कि इस क्लासिक कार प्रदर्शनी में न केवल जयपुर की कारों ने भाग लिया बल्कि राजस्थान, दिल्ली, मुम्बई और चण्डीगढ़ आदि से आई विंटेज कारों ने जयपुर की सड़कों पर प्रदर्शनी की. जिसमें देश के जाने माने विंटेज कार संग्रहकर्ता जैसे दिलजीत टाइटस, जट्टी, गौतम सिंघानिया, विवेक गोयंका की कारें भी शामिल रही. इस प्रदर्शनी में दुनिया की जानी मानी गाड़ियों के निर्माता जिनकी बनायी हुई गाड़ियां रोल्स रॉयस, बेंटले, मर्सिडीज, कैडिलैक, जगुआर, एमजी, फोर्ड रही.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

तस्वीर: विशाल शर्मा

 

लोगों ने देखा 100 साल पुरानी कारों का जलवा
पहली बार इस रैली में कुछ नई गाड़ियां भी शामिल हुई जो भी 100 साल से ज्यादा पुरानी थी. इन खास रख-रखाव और चमचमाती पुरानी कारों का रॉयल अंदाज देखकर हर कोई रोमांचित हो उठा. इन विंटेज कारों में से बेस्ट मेंटेन कार, बेस्ट रिस्टोर्ड कार, मोस्ट ओरिजनल, मोस्ट रेयर और स्पेशल कैटेगरी में पुरस्कार भी दिए गए. लोगों में इन कारों की फोटो के साथ ही कारों के बारे में जानकारी लेने की उत्सुकता भी देखने को मिली. इसमें राजपूताना ऑटोमेटिव स्पोर्ट्स कार क्लब के इस आयोजन में 1913 की फोर्ड भी शामिल थी जो सबके आकर्षण का केंद्र रही.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें: Sidharth-Kiara Wedding: 6 को नहीं 7 फरवरी को होगी सिद्धार्थ-कियारा की शादी, बॉलीवुड हस्तियां का पहुंचना शुरू

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT