कोटा: 12 घंटे में तीन छात्रों ने किया सुसाइड! NEET और JEE की कर रहे थे तैयारी

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Kota News: कोटा में सोमवार को एक के बाद एक तीन कोचिंग छात्रों ने सुसाइड कर लिया. जहां पर दो अलग-अलग थाना क्षेत्रों में तीन कोचिंग के छात्रों ने आत्महत्या कर ली है. पहला मामला कुन्हाड़ी थाना क्षेत्र लैंडमार्क सिटी का है, जहां पर मध्यप्रदेश के शिवपुरी निवासी प्रणव वर्मा ने अपने रूम पर अज्ञात जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या की उसके परिजनों के आने के बाद प्रणव वर्मा का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया, कुन्हाड़ी थाना पुलिस का कहना है कि प्रणव पिछले 2 वर्षों से कोटा में रहकर इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहा था जिसमें देर रात को अज्ञात जहरीला पदार्थ खा लिया, उसके बाद उसे निजी अस्पताल में ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई

दूसरा मामला जवाहर नगर थाने के तलवंडी राधा कृष्ण मंदिर के पास का है, जहां पर पीजी हॉस्टल में रहने वाले दो युवकों ने अपने-अपने कमरे में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली, घटना का पता लगने पर जवाहर नगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और युवकों के शव फंदे से उतारकर एमबीएस अस्पताल से पोस्टमार्टम रूम में शिप्ट करवाया गया और मृतकों के परिजनों को सूचना दी. सूचना मिलने पर शहर एसपी केसर सिंह शेखावत, डीएसपी अमर सिंह सहित पुलिस के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे.

मृतकों के दोस्तों का कहना है कि दोनों छात्र बिहार के रहने वाले थे. कोटा में रहकर एक मेडिकल व दूसरा इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहा था. अंकुश यादव बिहार के सुपौल का रहने वाला था और नीट की पढ़ाई कर रहा था. जबकि उज्जवल बिहार के गया का निवासी था और JEE की तैयारी कर रहा था. दोनों 7 महीने से एक ही हॉस्टल में रह रहे थे.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: मंदिर घूमाने के बहाने राहुल की यात्रा में 20 बसों में लाई गई महिलाएं, रात को सड़कों पर छोड़ गायब हुए नेता

जवाहर नगर थाना पुलिस का कहना है कि उन्हें सोमवार सुबह सूचना मिली की अंकुश ने अंदर से लॉक लगा रखा था. 12 बजे तक कमरे से बाहर नहीं आया तो पास के रूम में रहने वाले स्टूडेंट ने हॉस्टल संचालक को जानकारी दी. सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची. लॉक तोड़कर शव को पंखे से नीचे उतारा. शव ले जाते समय उज्ज्वल की बहन भी हॉस्टल आई. फिलहाल दोनों छात्रों के शव को पोस्टमार्टम रूम में रख दिया है. परिजनों के आने के बाद पोस्टमार्टम की कार्रवाई की जाएगी.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें: करौली: 350 बहनों के भाई हैं अनिल, गरीब और मजबूर लड़कियों की कराते हैं शादी

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT