Rajasthan: रेड डालने गए कांस्टेबल की गोली लगने से मौत, एक साल पहले हुई दी शादी, बनने वाले थे पिता

ADVERTISEMENT

Rajasthan: रेड डालने गए कांस्टेबल की गोली लगने से मौत, एक साल पहले हुई दी शादी, बनने वाले थे पिता
Rajasthan: रेड डालने गए कांस्टेबल की गोली लगने से मौत, एक साल पहले हुई दी शादी, बनने वाले थे पिता
social share
google news

Tonk News: टोंक जिले में बीते दिन आर्म्स एक्ट में कार्रवाई करने गई पुलिस पर फायरिंग शुरू हो गई. जिसमें एक कांस्टेबल सत्येंद्र सिंह जाट की जयपुर में मौत हो गई. पेट पर की गई सीधी फायरिंग में सिपाही सत्येंद्र बुरी तरह से जख्मी हो गए थे. जिन्हें ग्रीन कॉरिडर बनाकर बीते दिन बेहद नाजुक हालत में टोंक से जयपुर भेजा गया था. जहां सर्जरी के बाद उनकी मौत हो गई. इधर जानकारी के बाद यहां पुलिस महकमे में शोक ही लहर छा गई.

पुलिस ने किए दो गिरफ्तार

बीते दिन हुई इस घटना के बाद पुलिस ने जेबाड़िया गांव निवासी दो लोगों को मौके से डिटेन किया था. पुलिस ने अब इस मामले में दोनों आरोपियों जावेद खान व फैसल खान को गिरफ्तार कर लिया है. गौरतलब है कि दोनों टोंक शहर के निवासी हैं और जेबाड़िया गांव के पास अपने खेत की रखवाली के लिये टोपीदार बंदूक साथ गये हुए थे. पुलिस को उनके पास अवैध टोपीदार बंदूक होने की सूचना मिली थी जिसके चलते सोहेला पुलिस चौकी से कांस्टेबल सत्येंद्र सिंह एक अन्य कांस्टेबल के साथ वहां पहुंचे थे.

शहीद कांस्टेबल भरतपुर जिले का निवासी

जयपुर में हुई कांस्टेबल की मौत के बाद शुक्रवार दोपहर बाद सत्येंद्र सिंह की पार्थिव देह को जयपुर से टोंक स्थित पुलिस लाइन लाया गया. यहां पार्थिव देह को तिरंगे में लपेटे जाने के बाद उस पर पीएचईडी मंत्री कन्हैया लाल चौधरी, सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया, जिला प्रमुख सरोज बंसल, पूर्व विधायक अजीत सिंह मेहता के अलावा पुलिस अधीक्षक राजर्षि राज, कलेक्टर डॉ सौम्या झा व अन्य पुलिस अधिकारीयों व जवानों ने श्रद्धासुमन अर्पित किए. इस दौरान जवानों द्वारा 10 राऊंड हवाई फायर भी किये गए. बाद में शहीद कांस्टेबल की पार्थिव देह को विशेष वाहन द्वारा भरतपुर स्थित पैतृक गांव सलेमपुर के सिये रवाना किया गया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

फायरिंग कैसे हुई होगी जांच

पुलिस कार्रवाई के दौरान फायरिंग किस तरह व क्यों हुई? इसको लेकर अभी तक स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है लेकिन बस पुलिस इतना ही बता पा रही है कि फायरिंग बेहद नजदीक से की गई थी. एसपी राजर्षि राज ने बताया कि इस मामले में जांच कराई जा रही है.

पुलिस को सख्त कार्रवाई के निर्देश

मंत्री कन्हैया लाल चौधरी ने कहा कि यह घटना काफी दुखद है. चौधरी ने कहा कि हमारी सरकार के साफ निर्देश हैं कि ऐसी घटनाओं पर सख्ती से कार्रवाई हो. मंत्री चौधरी ने कहा कि एसपी को इस मामले को ऑफिसर केस स्कीम में लें. दोषियों को जल्द से जल्द सजा दिलवाये जाने के लिये कहा गया है.

ADVERTISEMENT

एक वर्ष पूर्व हुआ था विवाह

मिली जानकारी के अनुसार कांस्टेबल सत्येंद्र सिंह का विवाह एक वर्ष पूर्व हुआ था व वर्तमान में पत्नि गर्भवती है. गौरतलब है कि वह पिछले लगभग एक वर्ष से ही बरौनी थाने पर तैनात था.

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT