‘नहीं सहेंगे भाजपा’ के नारे के साथ इन युवाओं ने जयपुर में किया अर्धनग्न प्रदर्शन, जानें क्या है पूरी कहानी?

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Jaipur news: राजीव गांधी युवा मित्र बहाली की मांग को लेकर आमरण अनशन कर रहे हैं. राजीव गांधी युवा मित्रों (rajiv gandhi yuva mitra) के धरने को 15 दिन बीत चुके हैं, लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकला है. सड़क से लेकर सदन तक यह मुद्दा गूंज भी चुका है. ऐसे में प्रदर्शनकारी अब अपनी मांग सरकार तक पहुंचाने के लिए संघर्ष कर रहा है. जयपुर (Jaipur news) के शहीद स्मारक पर सत्याग्रह पर बैठे युवा मित्रों ने शनिवार को काली पट्टी बांधकर अर्धनग्न प्रदर्शन किया.

इस दौरान युवा मित्रों ने कहां कि जिस तरफ से एक ही झटके में सरकार ने आदेश निकालकर उन्हें बाहर किया ठीक ऐसे ही वापस बहाल करें. उन्होंने चेतावनी नहीं दी कि जैसे विधानसभा चुनाव ने बीजेपी ने नारा दिया था कि ‘नहीं सहेगा राजस्थान’ ठीक ऐसे ही आने वाले लोकसभा चुनाव में नारा देंगे ‘नहीं सहेंगे भाजपा’.

पायलट और बेनीवाल भी पहुंच चुके हैं धरनास्थल

उन्होंने कहा कि समय रहते सरकार बेरोजगारों को वापस रोजगार देकर उन्हें उजड़े घर को बसा दें. इससे पहले उनसे मुलाकात करने के लिए पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट जयपुर स्थित शहीद स्मारक पहुंचे थे . उन्होंने भजनलाल सरकार को इस मुद्दे पर जमकर घेरा और आरोप लगाया कि सरकार की यह कार्यवाही प्रतिशोध की भावना से की जा रही है. पायलट ने कहा था कि बीजेपी की केंद्र और राजस्थान सरकार नौजवानों को रोजगार देने की बात करती है. हाल ही में चुनाव के दौरान कहा गया था कि नौजवानों को अवसर दिए जाएंगे.

वहीं, खींवसर विधायक और आरएलपी सुप्रीमो हनुमान बेनीवाल ने शहीद स्मारक पहुंचकर राजीव गांधी युवा मित्रों के धरने का सपोर्ट किया. बेनीवाल ने कहा कि नई सरकार से लोगों को नए रोजगार की उम्मीद होती है, लेकिन सरकार ने दुर्भावना से 5 हजार परिवारों को चोट पहुंचाई है. हनुमान बेनीवाल ने अनशन कर रहे युवाओं से भी मुलाकात की और पुलिस कमिश्नर से फोन पर बात की.

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ेंः महेश जोशी की सीट पर चुनाव लड़ने वाले RR तिवाड़ी बोले- जयचंदों की वजह से हम हारे

ADVERTISEMENT