कॉलेज प्रिंसिपल पर लगा छात्राओं को छेड़ने का आरोप, छात्रा बोली- केबिन में बुलाकर चॉकलेट-पेस्ट्री ऑफर करते थे

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Ajmer News: अजमेर के किशनगढ़ स्थित आरके पाटनी राजकीय महाविद्यालय में छात्रा के साथ छेड़खानी का मामला सामने आया है. कॉलेज के प्रिंसिपल पर छात्राओं को मैसेज करने और अपने चैम्बर में बुलाकर अश्लील हरकते करने के भी आरोप लगे है. जानकारी के अनुसार बीते दिन कॉलेज के कार्यवाहक प्रिंसिपल प्रभु दयाल जांगिड़ ने जब एक छात्रा के साथ हरकत की तो छात्रा का धैर्य जवाब दे गया और उसने अपनी आपबीती छात्र नेताओं को बताई. इसके बाद छात्र नेताओं ने कॉलेज में जमकर हंगामा किया और पुलिस की मौजूदगी में भी कॉलेज प्रिंसिपल जांगिड़ के साथ हाथापाई भी की.

आरएलपी नेता रामस्वरूप चौधरी ने बताया की कॉलेज के प्रिंसिपल प्रभु दयाल जांगिड़ छात्राओं को व्हाट्सएप पर मैसेज कर उनको परेशान करता है. वहीं कॉलेज में अपने चेंबर में बुलाकर अश्लील हरकते भी करता था. चेंबर में छात्रों को चॉकलेट पेस्टी सहित अन्य खाने की चीजों का ऑफर भी करता था. शनिवार को कॉलेज की एक छात्रा ने अपने साथ हुई घटना की आपबीती को कॉलेज के छात्रों को बताई. जिसके बाद कॉलेज में जमकर हंगामा हुआ.

यह भी पढ़ें: जोधपुर गैस ब्लास्ट मामला: 11 बजे सर्व समाज की बड़ी बैठक, बेनीवाल ने किया समर्थन

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

छात्रों ने प्रिंसिपल की इस हरकत की जानकारी शहर थाना पुलिस को दी. इस दौरान प्रिंसिपल की हरकत से नाराज छात्रों ने जमकर नारेबाजी कर प्रिंसिपल को उसके चैंबर से बाहर धक्के मारकर पुलिस की गाड़ी तक पहुचाया. शहर थाना पुलिस ने प्रिंसिपल प्रभु दयाल जांगिड़ को हिरासत में ले लिया है. पुलिस पीड़िता के बयान के आधार पर मामले की जांच में जुट गई है.

प्रिंसिपल प्रभु दयाल जांगिड़ ने इस घटना के बारे में कहा, मैंने टॉफी खाने के मैसेज किए थे, बाकि पुलिस के पास पूरा रिकॉर्ड है, जो भी कार्रवाई होगी वह पुलिस करेगी. मैंने जो मैसेज किए वह गलत नहीं किए. वहीं पूरे मामले को लेकर पुलिस जांच अधिकारी का कहना है कि पीड़ित छात्रा ने कल थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई है, छात्रा का आरोप है कि प्रिंसिपल गलत मैसेज भेजता था और शनिवार को केबिन में बुलाकर अश्लील हरकत भी की है. पुलिस ने धारा 354 में मुकदमा दर्ज कर लिया है और अग्रिम अनुसंधान जारी है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें: बच्चों को मिल रहा बेहद घटिया पोषाहार, SDM ने कहा- बंद करो, बच्चे बीमार होंगे

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT