भीलवाड़ा: तांबे से भरे ट्रेलर को चोरों ने उड़ाया, पुलिस ने इस तरीके से ढूंढ़ निकाला

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Rajasthan News: भीलवाड़ा जिले की मांडल पुलिस ने चोरों द्वारा जमीन में दबाए गये लाखों रुपए के तांबे के तार ढूँढ निकालकर बरामद किए हैं. तांबे के तारों से भरे एक ट्रेलर को चोरों ने रातों-रात गायब कर तार जमीन में गाड़ दिए थे. चोरों को पकड़कर तार बरामद करने में अब पुलिस को सफलता मिली है.

मांडल थाना पुलिस ने अर्जुन गढ़ ग्राम की सरहद से जमीन में गड़े तांबे के तारों को बरामद करने में सीसीटीवी फुटेज और ट्रेलर में लगे जीपीएस सिस्टम के आधार पर चोरों का सुराग पता लगाकर कामयाबी हासिल की. चोरों ने शातिर तरीके से रायपुर उपखंड क्षेत्र के अर्जुन गढ़ गांव के जंगल में यह तार छुपाए थे.

25 नवंबर को बड़ौदा की हिंडालको कंपनी से एक ट्रेलर लगभग पौने 3 करोड रुपए के तांबे के तार लेकर फरीदाबाद के लिए रवाना हुआ था. इस ट्रेलर को लेकर ड्राइवर जो भीलवाड़ा जिले के शाहपुरा का रहने वाला है, 29 नवंबर को भीलवाड़ा जिले के मांडल थाना क्षेत्र के शाहपुरा रोड स्थित श्रीजी होटल पर खड़ा कर अपने परिवार से मिलने चला गया था. मगर जब वह लौटा तो यह करोड़ों रुपए के तांबे के तारों से भरा ट्रेलर गायब मिला. कंपनी के मैनेजर सुरेंद्र कुमार ने मांडल थाने में एफ आई आर दर्ज करवाई थी.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: सवाई माधोपुर पहुंची सोनिया गांधी, राहुल-प्रियंका के साथ मनाएंगी 75वां जन्मदिन

मांडल थाना पुलिस ने कुछ संदिग्ध लोगों को सीसीटीवी फुटेज के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ की और ट्रेलर में लगे जीपीएस सिस्टम को खंगाला तो इस चोरी का राज खुला. पूछताछ के आधार पर चोरों की निशानदेही पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर 10 फीट का गड्ढा खुदवाकर जेसीबी मशीन की सहायता से इन तारों को बरामद किया है. एक के बाद एक तारों के बंडल मिलने से सभी आश्चर्यचकित रह गए यह तार बिजली के उपकरण बनाने के काम में आते हैं.

ADVERTISEMENT

कोटा: भारत जोड़ो यात्रा में युवक ने खुद को लगाई आग, कांग्रेस की नीतियों से था परेशान

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT