धौलपुर: निर्माणाधीन बाईपास को लेकर ग्रामीणों में नाराजगी, प्रशासन के खिलाफ जमकर की नारेबाजी

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Dholpur News: राजस्थान के धौलपुर में एक निर्माणाधीन बाईपास को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है. उन्होंने सोमवार को इकट्ठा होकर उपखंड और जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. मामला एनएच 123 से बाड़ी मार्ग को जोड़ने वाले निर्माणाधीन बाईपास का है जहां सालेपुर गांव समेत आसपास के ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया. ग्रामीण निर्माण कार्य को रुकवा कर अंडरपास नाला और मुक्तिधाम के लिए रास्ता निकालने की मांग कर रहे हैं.

प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने बताया कि एनएच 123 से बाड़ी मार्ग को जोड़ने के लिए बाईपास का निर्माण कराया जा रहा है. लेकिन बाईपास के निर्माण से नजदीकी गांव सालेपुर के ग्रामीणों को काफी परेशानी उठानी पड़ेगी. ग्रामीणों का आरोप है कि संबंधित ठेकेदार और प्रशासनिक अधिकारियों की मिलीभगत से बाईपास का निर्माण करवाया जा रहा है. प्रशासन के साथ कुछ भूमाफिया भी इसमें लिप्त हैं.

ग्राम पंचायत के वार्ड सदस्य गिर्राज गोस्वामी ने बताया कि बाईपास निर्माण करा रही एजेंसी द्वारा अंडरपास नहीं दिया जा रहा है. जिससे ग्रामीणों को आवागमन में भारी परेशानी रहेगी. मवेशी और पशुओं के लिए चारा लाने के लिए बड़ी समस्या खड़ी हो जाएगी. दूसरी सबसे बड़ी समस्या आबादी के पानी निकासी की है. बाईपास का निर्माण काफी ऊंचा किया जा रहा है लेकिन निर्माण करा रही एजेंसी द्वारा पानी निकासी के लिए नाले का निर्माण नहीं करवाया गया. इसलिए ग्रामीणों ने निर्माणाधीन बाईपास पर पहुंचकर काम को रुकवा दिया और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

तहसीलदार ने ग्रामीणों को समझाकर फिर से शुरू करवाया काम
सैपऊ तहसीलदार गुड्डन तिवारी ने बताया कि मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जमा थी. ग्रामीणों से जानकारी ली तो पता चला कि पानी निकलने की समस्या, मुक्तिधाम पर जाने की समस्या और आने जाने के रास्ते की समस्या हैं. पानी निकासी के लिए नाला, आने जाने के लिए रास्ता और पुलिया का भी निर्माण किया जाएगा. मौके पर फिर से काम चालू करवा दिया गया है.

यह भी पढ़ें: सर्दी ने छुड़ाई लोगों की कंपकंपी, धौलपुर में पेड़-पौधों की पत्तियों पर जमी ओस की परत

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT