वसुंधरा के गढ़ में पहुंच रही ‘भारत जोड़ो यात्रा’, सोमवार सुबह यहीं से भरेगी हुंकार, जानें पूरा शेड्यूल

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Bharat Jodo Yatra: मध्यप्रदेश के बाद अब राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा पहुंच रही है. रविवार शाम तक यात्रा राजस्थान की सीमाओं में प्रवेश कर जाएगी. यात्रा पूर्व सीएम वसुंधरा राजे के गढ़ झालावाड़ में प्रवेश कर रही है. यहां चवली में रात्रि विश्राम के बाद सोमवार को यहीं से हुंकार भरेगी. राजस्थान में 21 दिसंबर तक ‘भारत जोड़ो यात्रा’ राजस्थान में 520 किमी तक चलेगी. इसके बाद 21 की शाम तक यात्रा का प्रवेश हरियाणा में होगा.

यात्रा के वेलकम और तैयारियों का जायजा लेने के लिए पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट झालावाड़ पहुंच चुके हैं. सीएम गहलोत एक दिन पहले यानी शनिवार को झालावाड़ का दौरा कर यात्रा की तैयारियों का जायजा ले चुके हैं. सोमवार सुबह चवली चौराहा से 2.2 किमी का सफर तय कर यात्रा सुबह 6 बजे झालरापाटन के काली तलाई पहुंचेगी. यहीं से आधिकारिक रूप से यात्रा का आगाज मरुधरा में होगा.

यह भी पढ़ें: भारत जोड़ो यात्रा: राजस्थान के 6 जिलों में 21 दिसंबर तक रहेगी यात्रा, जानें समीकरण और पूरा शेड्यूल

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

झालरापाटन में यात्रा का शेड्यूल
काली तलाई से 14 किमी का सफर तय कर सुबह के 10 बजे तक यात्रा बाली बोरडा चौराहा (झालरापाटन) पहुंचेगी. यहां लंच तक यात्रा रुकेगी. लंच के बाद 3 किमी का सफर तय कर दोपहर बाद 3 बजे के करीब नाहरडी पहुंचेगी. यहां से 9 किमी का सफर तय कर यात्रा शाम साढ़े 6 बजे के करीब झालरापाटन के चंद्रभागा चौराहा पहुंचेगी. यहां कॉर्नर मीटिंग के बाद 6 किमी का सफर और तय कर झालावाड़ के खेल संकुल में पहुंचकर रात्रि विश्राम होगा.

इन जिलों में जाएगी यात्रा
झालावाड़ में मंगलवार को लंच करने के बाद यात्रा कोटा जिले में प्रवेश करेगी. यहां से फिर बूंदी, टोंक को कुछ हिस्सा टच करते हुए सवाई माधोपुर, दौसा और फिर अलवर जिले में प्रवेश करेगी. 19 दिसंबर सुबह 10 बजे के करीब यात्रा अलवर में प्रवेश करने के बाद 21 दिसंबर को सुबह 6 बजे तक हिरयाणा की तरफ कूच कर जाएगी.

ADVERTISEMENT

पायलट पहुंचे झालावाड़
इधर यात्रा के वेलकम के लिए पायलट झालावाड़ पहुंच चुके हैं. यहां पायलट के सर्मथकों उनका जोरदार तरीके से स्वागत किया. पायलट ने मीडिया से बात करते हुए कहा- राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का उत्तर भारत में कई गुना प्रभाव पड़ा है. लाखों की संख्या में लोग शामिल हो रहे हैं.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें: हिंदुत्व के एजेंडे पर बीजेपी की राह पर अब कांग्रेस! जयपुर में लगे ‘धर्म की जय हो’ के होर्डिंग्स

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT