Paper Leak के मामले में सीएम गहलोत का ट्वीट, कही ये बात! जानें

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Senior Teacher Exam-2022 Paper Leak: वरिष्ठ अध्यापक भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद सीएम अशोक गहलोत का कहना हैं कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि आज 24 दिसंबर को 9 से 11 बजे शिक्षक भर्ती की सामान्य ज्ञान की परीक्षा को ऐतिहातन निरस्त किया गया है. जिससे किसी भी मेहनतकश युवा के साथ अन्याय ना हो. बाकी परीक्षाएं यथावत जारी रहेंगी. सरकार किसी भी युवा के साथ अन्याय नहीं होने देगी और दोषियों को सख्त से सख्त सजा दी जाएगी.

गहलोत ने कहा कि भर्ती परीक्षाओं में पार्दर्शिता के लिए हमारी सरकार ने सख्त कानून बनाया है. दुर्भाग्य से देशभर में पेपर लीक करने वाली गैंग पनप गई हैं. जिससे कई राज्यों में यहां तक कि ज्यूडिशियरी और मिलिट्री तक में पेपर लीक जैसी घटनाएं होती हैं. सीएम ने कहा कि लेकिन राजस्थान में सख्त कार्रवाई कर बेईमानों को जेल में बंद किया गया है.

अब पेपर लीक के मामले के बाद युवाओं में आक्रोश नजर आ रहा हैं. झालवाड़, बांसवाड़ा, कोटा, धौलपुर, अलवर और हनुमानगढ़ से विरोध प्रदर्शन की खबरें आ रही है. परीक्षा केंद्र के बाहर परीक्षार्थी सरकार के विरूद्ध नारेबाजी करते नजर आए.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

पेपर लीक के बाद विपक्ष हमलावर

दूसरी ओर, विपक्ष भी सरकार पर हमलावर है. बीजेपी के राज्यसभा सांसद डॉ. किरोड़ीलाल मीणा ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री पर वार किया हैं. उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवाओं की मेहनत पर डाका डालने वाले अपने नजदीकी डकैतों को बचाने वाले प्रदेश के मुखिया जी आखिर कब तक दिखावे का कानून बनाकर ढोंग करते रहोगे? जब पारदर्शी परीक्षा करवा ही नहीं सकते तो दिखावे कि भर्ती निकालकर प्रदेश के बेरोजगारों के साथ क्यों छल कर रहे हो? डॉ. मीणा ने कहा कि मैं पहले भी रीट, SI, जेईएन, कांस्टेबल पेपर मामले को लेकर आप से सीबीआई जांच की मांग कर चुका हूं. लेकिन आपने अनुशंसा नहीं की. क्योंकि आप बड़े मगरमच्छों को बचाना चाहते हैं. सांसद ने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण है कि युवाओं के साथ छल हो रहा है और सरकार गहरी नींद में सो रही है.

ADVERTISEMENT

इससे पहले नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने भी सवाल पूछा था कि ऐसी कौनसी वजह है कि बार-बार पेपर गैंग के हाथ लग जाता है? उन्होंने सख्त कार्रवाई करने की मांग की थी. जबकि बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने सरकार को ही कमजोर बताया हैं. इसके अलावा आरएलपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हनुमान बेनीवाल भी निशाना साध चुके हैं.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ेंः राजस्थान में फिर Paper Leak, बस में मिले कई अभ्यर्थी जिनके पास वरिष्ठ अध्यापक भर्ती परीक्षा पेपर की कॉपी!

ये है मामला

शनिवार सुबह वरिष्ठ अध्यापक भर्ती परीक्षा का सामान्य ज्ञान का पेपर था. जिसके लीक होने के बाद आरपीएससी ने परीक्षा निरस्त कर दी. दरअसल, उदयपुर की बेकरिया थाना पुलिस ने एक बस को नाकेबंदी के दौरान पकड़ा. जिसमें करीब 37 अभ्यर्थी और 7 पेपर सॉल्व करने वाले एक्सपर्ट मौजूद थे. बस में मिला पेपर का कंटेंट एग्जाम पेपर से हूबहू मिल रहा था. जानकारी के मुताबिक  अधिकांश आरोपी सिरोही और जालौर से हैं. वहीं, मास्टरमाइंड का संबंध जोधपुर से होने की खबर सामने आई है.

    ADVERTISEMENT