प्रदेश में कोहरे का दौर अगले 48 घंटों तक रह सकता है जारी, कब मिलेगी शीत लहर से राहत? जानें

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Rajasthan News: प्रदेश में चल रहा अति शीतलहर और कोहरे का दौर आगामी 48 घंटों तक जारी रह सकता है. मौसम विभाग ने अलवर, झुंझुनूं, सीकर, चूरू और श्री गंगानगर में शुक्रवार सुबह 8:30 बजे तक अति शीत लहर और अति घना कोहरा होने की चेतावनी जारी की है. अगर राजधानी जयपुर की बात करें तो पूरे शहर में 11 जनवरी तक आसमान मुख्यत: साफ रहने की संभावना है. गुरुवार को राजस्थान में सबसे कम तापमान सीकर में -1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. जबकि अधिकतम तापमान फलौदी में 24.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग ने प्रदेश के अधिकांश भागों में 8 जनवरी से शीत लहर से राहत मिलने की संभावना जताई है.

गौरतलब है कि हिल स्टेशन माउंट आबू में गुरुवार सुबह न्यूनतम तापमान -6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ. न्यूनतम तापमान में आई इस गिरावट के चलते रात में पड़ने वाली ओस की बूंदें बर्फ की चादर में तब्दील हो गई. यहां सुबह कड़ाके की सर्दी के कारण मैदानों और झील के किनारे बर्फ जम गई थी.

आबू में कोहरे और बर्फ के बीच सुबह-सुबह लोग ठंड का लुत्फ लेते भी नजर आए. राजस्थान में कड़ाके की ठंड को देखते हुए 15 जनवरी तक स्कूलों की छुट्टियां भी हो सकती है. हालांकि इसके बारे में फैसला जिला कलेक्टर को लेना है. इस संबंध में माध्यमिक शिक्षा निदेशालय (बीकानेर) ने एक आदेश भी जारी किया है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

पाली में तेज सर्दी पड़ने के बीच एक अलग ही नजारा देखने को आया. आदमी तो आदमी भगवान को भी सर्दी लगाने लगी है, जिसकी वजह से यहां भगवान को कंबल ओढ़ाया गया. शीतलहर से बचाव के लिए भगवान शिव को साफा पहनाया गया तो वहीं हनुमानजी, सरस्वती मां, विष्णु और महालक्ष्मी मां को गर्म कम्बल ओढ़ाया गया. पाली में शिव भक्तों ने अलाव भी जलाया. ताकि भगवान को सर्दी से बचाया जा सके.

यह भी पढ़ें: सीएम गहलोत का बयान- मेरा बस चले तो रेपिस्ट और हत्यारों का सिर मुंडवाकर बाजार में घुमाऊं

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT