गहलोत सरकार के सलाहकार बोले- राहुल गांधी को दिखाऊंगा काले-पीले गुब्बारे

ADVERTISEMENT

तस्वीर: ट्वीटर से ली गई है.
तस्वीर: ट्वीटर से ली गई है.
social share
google news

Tonk News: बीते दिन टोंक में प्राइवेट स्कूलों का एक अधिवेशन चल रहा था. जिसमें दो खास मेहमान मौजूद थे. एक उनियारा से कांग्रेस विधायक हरीश चन्द्र मीणा और दूसरे राजस्थान सरकार में सलाहकार और निजी स्कूलों के अध्यक्ष अनिल शर्मा. टोंक में चल रहे इस अधिवेशन में पहले तो सब कुछ ठीक था लेकिन जैसे ही अनिल शर्मा ने भाषण दिया वैसे ही वहां बवाल शुरु हो गया. दरअसल अनिल शर्मा मंच से भाषण देते हुए सरकार बनने से पहले की अपनी मांगे दोहरा रहे थे. विधायक हरीश मीणा को वादों और दावों की याद दिलाकर हमला बोल रहे थे.

अनिल शर्मा मंच से अपनी पुरानी मांगों को दोहरा रहे थे. कहने लगे कि अशोक गहलोत और सचिन पायलट को आने दो, जब हमारे साथ गलत हो रहा है तो हम कांग्रेस को वोट क्यों देंगे. अनिल शर्मा यहीं नहीं रुके, आगे उन्होंने ये भी कह दिया कि मैं बहुत हुड़दंगबाज आदमी हूं. 9 मुकदमे पहले से ही है. विधायक हरीश मीणा के सामने ही बोल दिया कि अगर हमारे मुद्दे नहीं सुलझे तो तो राहुल गांधी को काले-पीले गुब्बारे दिखाऊंगा.

इसके बाद अनिल शर्मा के भाषण के जवाब में विधायक हरीश मीणा ने जैसे ही अपनी बात रखी, अधिवेशन में दोनों के समर्थक नारेबाजी करने लगे. दोनों ही तरफ के समर्थक कार्यक्रम से बाहर निकलकर सड़क पर उतर आए. और इसके बाद वहां जो हुआ उसकी तस्वीरें आपके सामने है. टोंक का ये मैदान मानो रणक्षेत्र बन गया और दोनों पक्षों के बीच जमकर लात-घूसे चले, गाली-गलौज और मारपीट चली.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

टोंक में राजस्थान सरकार के दो दिग्गजों के बीच मानो लड़ाई सी हो गई. विधायक हरीश चन्द्र मीणा और सरकार में सलाहकार अनिल शर्मा आमने सामने आ गए. और करीब आधे घंटे तक चली इस मारपीट के दौरान वहां जबरदस्त अफरा-तफरी मच गई. हालात तो इतने बेकाबू हुए कि टोंक पुलिस को माहौल शांत कराने के लिए 5 थानों की पुलिस बुलानी पड़ गई, तब जाके मामला कहीं शांत हुआ.

    ADVERTISEMENT