कोटा: अब जेल के कैदी लोगों की गाड़ियों में भरेंगे पेट्रोल-डीजल, शुरू हुआ अनोखा पेट्रोल पंप

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Kota news: आपने कैदियों के बारे में सुना होगा कि बैरक में रहते हैं, जेल के अंदर खाना बनाने से लेकर साफ-सफाई का काम करते होंगे. लेकिन राजस्थान की एक जेल के कैदी अब वाहनों में पेट्रोल भरेंगे. पूरे पेट्रोल पंप का संचालन कैदी करेंगे. सुनने में थोड़ा अजीब जरूर है, लेकिन यह हकीकत है. कोटा सेंट्रल जेल प्रशासन ने यह नवाचार किया है. कोटा सेंट्रल जेल के पास एक ऐसा पेट्रोल पंप शुरू हो चुका है. जहां कैदियों ने पेट्रोल-डीजल भरना शुरू कर दिया है.

अभी इस पंप पर 15 कैदियों को लगाया गया है. जिससे यहां करीब 25-30 बंदियों को रोजगार उपलब्ध होगा. इस पंप का नाम “आशाएं द फिलिंग स्टेशन” रखा गया है. यह पेट्रोल पंप इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड के सहयोग से कोटा सेंट्रल जेल के पास ट्रायल बेस पर प्रारंभ किया है.

पहले दिन इस पंप पर जेल अधीक्षक परमजीत सिंह सिद्धू और उप अधीक्षक जसवंत सिंह ने गाड़ियों में पेट्रोल भरकर शुरुआत की. बाद में बंदी कैदी कर्मचारियों ने पेट्रोल डीजल भरा. जेल अधीक्षक परमजीत सिंह सिद्धू ने बताया कि ओपन जेल के बंदियों को इस पेट्रोल पंप पर कर्मचारी लगाया गया है. उनके अच्छे चाल चलन आचरण एवं अच्छी मानसिकता वाले बंदियों को योग्यता के अनुसार रोजगार भी उपलब्ध करवाया गया है. इस पंप का नाम “आशाएं द फिलिंग स्टेशन” रखा गया है. अभी इस पंप पर 15 कैदियों को लगाया गया है. जिससे यहां करीब 25-30 बंदियों को रोजगार उपलब्ध होगा. वहीं इस पंप से प्राप्त आय बंदी कल्याण एवं कारागार विकास में उपयोग की जाएगी.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: बाड़मेर: पुलिस थाने की छत से गिरा कांस्टेबल, 4 बच्चों के पिता की इलाज के दौरान हुई मौत

    ADVERTISEMENT