जैन समाज के समर्थन में आए सचिन पायलट, श्री सम्मेद शिखर के लिए केंद्रीय पर्यटन मंत्री को लिखा पत्र

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Sammed Shikhar Ji news: केंद्र सरकार द्वारा जैन विश्व विख्यात तीर्थ सम्मेद शिखर को पर्यटन स्थल घोषित करने के बाद देशभर में जैन समाज विरोध कर रहा है. आक्रोशित समाज इस फैसले को वापस लेने की मांग कर रहा है. जिसको लेकर जगह-जगह विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं. राजस्थान में भी इसका कड़ा विरोध जताया जा रहा है. अब जैन समाज के समर्थन में कांग्रेस नेता सचिन पायलट भी आ गए हैं. इसको लेकर पायलट ने केंद्रीय पर्यटन मंत्री को पत्र लिखा है. पत्र में पायलट ने लिखा है कि जैन समुदाय के तीर्थ स्थल श्री सम्मेद शिखर को पर्यटन स्थल घोषित करने से जैन समाज में आक्रोश है. इसलिए आप पर्यटन क्षेत्र घोषित करने के फैसले पर पुनर्विचार करें.

बता दें इसी विरोध के चलते जयपुर के मुनि सुज्ञेय सागर ने मंगलवार को समाधी मरण ली. तीर्थ स्थल सम्मेद शिखर को बचाने को लेकर मुनि सुज्ञेय सागर ने अन्न-जल त्याग कर आमरण अनशन कर रहें थे. जिसमें उन्होंने पंच परमेष्ठि का ध्यान करते हुए अपना देह त्याग दिया था. इसके बाद जैन समाज बड़ा आक्रोश देखा गया.

गौरतलब है कि झारखंड में स्थित तीर्थ स्थल सम्मेद शिखर जी जैन समाज का सबसे बड़ा तीर्थ स्थल माना जाता है. करीब 15 दिन पहले केंद्र सरकार ने इसे पर्यटन स्थल घोषित कर दिया. जिसके बाद से ही जैन समुदाय इसका विरोध कर रहा था. पहले यह विरोध झारखंड से शुरू हुआ था. इसके बाद देश के कई हिस्सों में इस फैसले के विरोध में आंदोलन किया जा रहा है. वहीं इसको लेकर जैन समाज के प्रतिनिधिमंडल ने भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी से मुलाकात की है. जिसके बाद राहुल गांधी ने जैन समुदाय को अपना समर्थन दे दिया है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: Sammed Shikhar Ji: सम्मेद शिखर जी आंदोलन में जैन समाज के समर्थन में आए राहुल गांधी

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT