Video: पेपर माफियाओं की बिल्डिंग धवस्त होने पर अभ्यर्थियों ने जताई खुशी, फीस वापसी की कर रहे मांग

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Rajasthan paper leak update: राजस्थान में सेकंड ग्रेड टीचर परीक्षा पेपर लीक मामले के मुख्य आरोपी सुरेश ढाका और भूपेंद्र सारण के साम्राज्य अधिगम कोचिंग इंस्टिट्यूट को जमींदोज जा रहा है. जेडीए की टीम पुलिस बल के लाव बिल्डिंग को ध्वस्त कर रही है. सरकार और प्रशासन के इस बुलडोजर एक्शन को अभ्यर्थियों ने सही ठहराया है. कोचिंग सेंटर्स में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले युवाओं ने पेपर माफियाओं के इंस्टिट्यूट को जमींदोज करने पर खुशी जताई है. साथ ही अन्य कोचिंग सेंटर्स की भी जांच की मांग रखी है.

अभ्यर्थियों का कहना है कि सरकार देर से जागी है, लेकिन सही किया है. ऐसे कोचिंग सेंटर्स की बिल्डिंग को ध्वस्त कर ही देना चाहिए, जो युवाओं के भविष्य से खेल रहे हैं. यहां हजारों अभ्यर्थी सरकारी नौकरी की उम्मीद लिए गाँव-ढाणी परिवार छोड़कर जयपुर में आकर तैयारी करते हैं और ऐसे कोचिंग के दलाल उनकी मेहनत को पैसों में तौल देते हैं.

राजस्थान के अलग-अलग जिलों से जयपुर में आकर भविष्य को संवारने की उम्मीद से अभ्यर्थी कोचिंग में एडमिशन लेते हैं. लेकिन ऐसे कोचिंग सेंटर उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. यही वजह है की रीट पेपर लीक और अब सेकंड ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा पेपर लीक में नाम सामने आने के बाद आखिरकार कोचिंग संचालक सुरेश ढाका के कोचिंग को ध्वस्त किया गया है. जिसे अभ्यर्थियों ने सही ठहराया है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

हालांकि अभ्यर्थियों ने यह भी कहा कि जो अभ्यर्थी अधिगम कोचिंग में पढ़ाई कर रहे थे उनका कोई दोष नहीं है. उनकी फीस उनको वापस लौटाने की व्यवस्था होनी चाहिए. साथ ही भूपेंद्र सारण और सुरेश ढाका को पकड़ कर जल्दी सलाखों के पीछे पहुंचाना चाहिए. ताकि भविष्य में शिक्षा के दलाल पेपर लीक करने का ख्वाब भी ना देख सकें. कई युवाओं ने पेपर लीक मामले की सीबीआई जाँच की भी मांग रखी ताकि जो भी बड़ी मछलियां हैं, उन पर भी शिकंजा कसा जा सके. वहीं जयपुर में जो भी कोचिंग इंस्टीट्यूट चल रहें है उनकी भी जांच की जाए ताकि पता चले सके की कौन-कौन शिक्षा के नाम पर काले साम्राज्य को खड़ा कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: Video: जयपुर में पेपर लीक के मास्टरमाइंड की कोचिंग पर गरजा बुलडोजर, धराशाई हुई बिल्डिंग

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT