Gehlot ने प्राण-प्रतिष्ठा समारोह को बताया BJP का प्रोग्राम, ‘Karanpur में भी मुंह की खानी पड़ी’ !

ADVERTISEMENT

Gehlot called the consecration ceremony a program of BJP, ‘Had to face defeat in Karanpur too’!
social share
google news

अयोध्या में राम मंदिर ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह के निमंत्रण पर राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने कहा, “भाजपा ने मुद्दा बनाया तभी तो ये दिक्कत आई है। राम मंदिर सबकी आस्था का केंद्र है, ये सुप्रीम कोर्ट ने कह दिया तो झगड़ा मिट गया था। सभी देशवासियों ने फैसले का स्वागत किया। सरकार को भी उसी प्रकार का व्यवहार करना चाहिए था। इसका राजनीतिकरण किया गया है….जब राम मंदिर सबका है जो शुरुआत से अगर सभी को साथ लेकर चलते तो ये नौबत नहीं आती। इसे RSS और भाजपा का कार्यक्रम बना दिया गया….”

On the invitation of Ram Mandir ‘Pran Pratishtha’ ceremony in Ayodhya, former Chief Minister of Rajasthan and Congress leader Ashok Gehlot said, “This problem has arisen only because BJP created the issue. Ram Mandir is the center of everyone’s faith, the Supreme Court has said this.” So the dispute was resolved. All the countrymen welcomed the decision. The government should have behaved in the same manner. It has been politicized… When Ram Mandir belongs to everyone, if everyone was taken along from the beginning then it would have It doesn’t matter. It has been made a program of RSS and BJP….”

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

    ADVERTISEMENT