सियासी चौसर में आरएलपी-बीएसपी किसे देंगे शह और मात, जाट पलटेंगे बाज़ी ?

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

In political chess, who will RLP-BSP checkmate, Jats will turn the tables?

social share
google news

हनुमान बेनीवाल ने राजस्थान चुनाव में किसी से गठबंधन किए बगैर उतरने का ऐलान किया है. बसपा के नेशनल कन्वेनर आकाश आनंद ने साफ किया है कि पार्टी 200 सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी. बेनीवाल और बसपा राजस्थान चुनाव में किसका खेल बिगाड़ेंगे?

राजस्थान विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी हलचल बढ़ गई है. सत्ताधारी कांग्रेस ने उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी है. विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) परिवर्तन यात्रा निकालने जा रही है तो वहीं अब बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और हनुमान बेनीवाल की राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) भी एक्टिव मोड में आ गई है. बसपा ने राजस्थान चुनाव में 200 सीटों पर उम्मीदवार उतारने का ऐलान कर दिया है. बसपा के नेशनल कन्वेनर आकाश आनंद ने 16 अगस्त को धौलपुर से शुरू हुई संकल्प यात्रा के समापन अवसर पर ऐलान किया कि पार्टी 200 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. उन्होंने ये भी कहा कि हमने पूरी ताकत के साथ राजस्थान चुनाव में जाने का मन बना लिया है. पांच सीटों के लिए उम्मीदवारों के नाम का ऐलान पहले ही किया जा चुका है. आकाश आनंद ने कांग्रेस सरकार पर महंगाई और बेरोजगारी को लेकर जमकर हमला बोला तो साथ ही बीजेपी को भी निशाने पर लिया. दूसरी तरफ, हनुमान बेनीवाल ने भी साफ किया है कि हम न तो कांग्रेस और ना ही बीजेपी, दोनों में से किसी भी दल के साथ गठबंधन नहीं करेंगे. आरएलपी अकेले चुनाव मैदान में उतरेगी. बसपा के 200 सौ सीटों पर उम्मीदवार उतारने के ऐलान और बेनीवाल के एकला चलो के नारे से किसे नफा होगा और किसे नुकसान? अब ये सवाल उठने लगे हैं. इस सवाल का जवाब तलाशने से पहले इन पार्टियों का वोट बेस क्या है और किस इलाके में ये मजबूत हैं?

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

यह भी देखे...

In political chess, who will RLP-BSP checkmate, Jats will turn the tables?

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT