Jalore: सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों की हड़ताल, 3 साल के मासूम की मौत!

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Jalore: Doctors strike in government hospital, 3-year-old dies!

social share
google news

राजस्थान सरकार द्वारा हाल ही मे पेश किये गये राइट टू हेल्थ बिल के विरोध मे प्रदेश के निजी अस्पताल संचालक हड़ताल पर है जिसके चलते पूरे प्रदेश मे स्वास्थ्य सेवाएं चरमराई हूई है निजी अस्पताल के समर्थन मे सरकारी डाॅक्टर भी आपातकालीन सेवा को छोड़कर सभी सेवाए बंद है इस दौरान मरीज परेशान होते है ओर जालोर के सांचौर ,भीनमाल व रानीवाड़ा क्षेत्र के आसपास के सैंकड़ो मरीज गुजरात की ओर रूख करते है

मंगलवार को जालोर के काम्बा गांव के 3 साल का मासूम धनपत सिंह की ईलाज के अभाव मे मौत गई, आहोर उपखंड के काम्बा गांव के मासूम को राजकीय अस्पताल आहोर मे भर्ती करवाया लेकिन तबियत बिगड़ने के चलते राजकीय जिला चिकित्सालय के मातृ एवं शिशू स्वास्थ्य केंद्र मे रेफर किया लेकिन यहां डाक्टर हड़ताल पर होने के चलते बच्चे का ईलाज प्राॅपर तरीके से नही होती की वजह से गुजरात रेफर होते समय रास्ते मे दम तोड़ लिया। परिजनों ने MCH के डाॅक्टरो पर ईलाज मे लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है परिजनो ने बोला कि हमने आस-पास के सभी निजी अस्पतालों मे भी चक्कर काटे लेकिन ईलाज नही मिला परिणामस्वरूप मासूम की मौत हो गई

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

यह भी देखे...

बच्चे के परिजनों ने बताया कि मासूम को 2-3 दिन से भारी जुकाम था ओर सुबह अचानक बिमार हो गया इसलिए पहले आहोर व फिर जालोर के निजी अस्पताल मे चक्कर काटे फिर सरकारी अस्पताल मे भर्ती करवाया लेकिन बाल व शिशु रोग विशेषज्ञ डाॅ मुकेश चौधरी ने हड़ताल से आते ही उसको रेफर कर दिया ओर रास्ते मे मासूम ने दम तोड़ दिया।

Jalore: Doctors strike in government hospital, 3-year-old dies!

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT