सीपी जोशी की रणनीति पड़ेगी भारी, बीजेपी संगठन में होने वाले हैं ये बदलाव, जानें

राजस्थान तक

ADVERTISEMENT

Joshi’s strategy will be heavy in Rajasthan assembly elections, will win?

social share
google news

23 मार्च को बीजेपी आलाकमान ने राजस्थान बीजेपी के नए प्रदेश अध्यक्ष के रूप में सीपी जोशी के नाम की घोषणा कर सबको चौंका दिया। सोमवार को सीपी जोशी ने इस पद पर शपथ भी ले ली। इसके बाद अब राजनीतिक गलियारों में इस बात की भी चर्चा है कि बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के बदलाव के बाद क्या अब संगठन में भी बदलाव होगा? ये कयास लगाए जा रहे हैं कि अगले दो तीन दिन में आलाकमान की अनुमति के साथ संगठन में बदलाव किया जा सकता है। इसके साथ ही चर्चा ये भी है कि कुछ मोर्चों के प्रदेश अध्यक्ष भी बदले जा सकते है। इस दौरान पार्टी जातिगत समीकरण को ध्यान में रखेगी। कहा जा रहा है कि युवा मोर्चा के अध्यक्ष हिमांशु शर्मा की जगह किसी जाट या गुर्जर समाज का अध्यक्ष बनाया जा सकता है। कयास लगाए जा रहे हैं कि पिछले अध्यक्ष के समय जो नेता हाशिए पर थे, उन्हें नई कार्यकारिणी में जगह दी जा सकती है।

On March 23, the BJP high command surprised everyone by announcing the name of CP Joshi as the new Rajasthan BJP state president. On Monday, CP Joshi also took oath on this post. After this, there is also a discussion in the political circles that after the change of the BJP state president, will there be a change in the organization as well? It is being speculated that with the permission of the high command, a change in the organization can be made in the next two-three days. Along with this, it is discussed that the state presidents of some fronts can also be changed. During this, the party will keep in mind the caste equation. It is being said that in place of Himanshu Sharma, the president of Yuva Morcha, a Jat or Gujjar community can be made the president. It is being speculated that the leaders who were marginalized during the time of the previous president, may be given a place in the new executive.

ADVERTISEMENT

यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT