पेपर लीक मामले में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, मास्टरमाइंड के साथी की गिरफ्तारी से खुलेंगे बड़े राज?

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

RPSC Paper Leak: द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती पेपर लीक करने वाले गिरोह के मास्टरमाइंड भूपेंद्र सारण के घर पर हुई पुलिस की छापेमारी के बाद कई बड़े खुलासे हुए है. पुलिस ने भूपेंद्र की पत्नी, प्रेमिका सहित छह लोगों को गिरफ्तार करने के बाद एक और गिरफ्तारी की है. फर्जी डिग्री बेचने के मामले में पुलिस ने हनुमान बिश्नोई को गिरफ्तार किया है, जिसके कब्जे से 19.37 लाख रूपए भी बरामद किए हैं.

दरअसल पेपर लीक का सरगना भूपेंद्र सारण फर्जी डिग्रियां बेचकर और अभ्यर्थियों को नकल करवाकर परीक्षा पास की एवज में जो भी धनराशि लेता उसे वह आरोपी हनुमान विश्नोई के पास रखवाता था. इस पूरे षडयंत्र में शामिल होने पर हनुमान बिश्नोई को गुरुवार रात करणी विहार थाना पुलिस ने 19.37 लाख रुपए की राशि के साथ गिरफ्तार किया है. साथ ही आरोपी आरपीएससी की द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती पेपर लीक करने वाले गिरोह के सरगना भूपेंद्र सारण का परिचित है. ऐसे में उससे पेपर लीक मामले में भी पूछताछ की जा रही है, जिसके बाद कई बड़े खुलासे होने की संभावना है.

इसके आलावा पेपर लीक के मास्टरमाइंड और फर्जी डिग्री प्रकरण में गिरफ्तार किए गए आरोपी से हुई पूछताछ के बाद घर पर की गई छापेमारी के दौरान भूपेंद्र सारण और उसके भाई गोपाल सारण के जयपुर में अलग-अलग जगह कई बेशकीमती भूखंड भी मिले है. जो सरगना भूपेंद्र और गोपाल ने अपनी पत्नियों एलची देवी और इंदुबाला के नाम पर बनी फर्म एसबी प्राइम स्टील इंडस्ट्री के नाम पर भूखंड ले रखे हैं. इसके साथ ही अजमेर रोड स्थित रजनी विहार में भूपेंद्र और गोपाल के नाम से 150 वर्ग मीटर क्षेत्रफल की बेशकीमती जमीन भी है. पुलिस छापेमारी के दौरान बरामद संपत्ति से संबंधित अन्य दस्तावेजों की जांच की जा रही.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

बता दे कि मास्टरमाइंड भूपेंद्र सारण के घर से गिरफ्तार किए गए आरोपी दिनेश कुमार खींचड़ से हुई पूछताछ में भी कई चौकाने वाली बातें उजागर हुई है. आरोपी दिनेश भी 24 दिसंबर को उदयपुर में द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा देने के लिए गया था. दिनेश रिश्ते में भूपेंद्र की साली का लड़का लगता है और भूपेंद्र ने इससे सुबह ही द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा प्रथम पारी का जीके का पेपर पढ़ाया था. फिलहाल जांच में सामने आए नए तथ्यों को लेकर पुलिस गहनता से जांच कर रही है. जिसके बाद पुलिस आगे इस प्रकरण में और भी खुलासे कर सकती है.

यह भी पढ़ें: RLP सुप्रीमो हनुमान बेनीवाल के सरकारी आवास पर चोरी, कैश और गहने पार कर ले गए चोर

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT