जोधपुर: राजस्थान हाईकोर्ट में आसाराम के वकीलों को उन्हीं के समर्थकों ने पीटा, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान!

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Asaram Case: यौन शौषण के आरोप में आजीवन सजा काट रहे आसाराम (Asaram) के वकीलों के साथ आज राजस्थान हाईकोर्ट जोधपुर में मारपीट हो गई. पुलिस ने मारपीट के मामले में दिल्ली के दो लोगो को गिरफ्तार किया है. आसाराम में उपचार को लेकर समर्थकों के दो गुट हो गए हैं. एक गुट चाहता है कि आसाराम का इलाज आयुर्वेद पद्धति से हो. जबकि दूसरा चाहता है कि वर्तमान में जो स्थिति है उसके लिए एलोपैथी सही उपचार है. इसके लिए बड़े सेंटर पर आसाराम को शिफ्ट किया जाए. आज राजस्थान हाईकोर्ट जोधपुर में आसाराम के उपचार को लेकर याचिका पर सुनवाई भी थी. इसके लिए दिल्ली से आए एडवोकेट रामचंद्र भट्ट से एलोपैथी से उपचार करवाने का समर्थन करने वाले लोग मिलना चाहते थे, लेकिन भट्ट उनसे नहीं मिले. इस दौरान दिल्ली से आए दो लोगो ने वकील के साथ मारपीट कर दी.

आरोप है कि बीच-बचाव करने आए वकील भट्ट के सहयोगी वकील विजय साहनी के साथ भी मारपीट हुई. इसके आरोप ने कुड़ी भगतासनी थाना पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है.

क्या है पूरा मामला?

थानाधिकारी देवेंद्र सिंह देवड़ा ने बताया कि वकील साहनी की रिपोर्ट पर मामला दर्ज भी किया गया है और दो लोगो को गिरफ्तार किया है. इस पूरे मामले में हिरासत में लिए गए डॉ. कपिल भोला ने बताया कि बापू की जो वर्तमान स्थिति है, उसके अनुरूप उनका एलोपैथिक उपचार जरूरी है. उनके शरीर में लगातार ब्लड की कमी हो रही है. ऐसी स्थिति में आयुर्वेद पद्धति में उपचार करवाना संभव नहीं है. हम चाहते थे कि वकील भट्ट हमसे बात करें, कोर्ट में एलोपैथी उपचार के लिए ही राहत की मांग करें. लेकिन वो इसके लिए बात करने के लिए तैयार नहीं थे.

आसाराम समर्थक पहले भी लगा चुके हैं आरोप

आसाराम के कई समर्थक पहले भी आरोप लगा चुके हैं “कुछ लोग ऐसे हैं जो उनको बाहर नहीं आना देना चाहते हैं, गलत निर्णय लेते हैं. जिसके चलते उनको कोर्ट से राहत नहीं मिल रही है. उनकी जेल में तबीयत खराब हो रही हैं.” बता दें कि आसाराम 9 जनवरी से एम्स में भर्ती है. हार्ट की परेशानी के चलते एंजियोग्राफी भी हो चुकी है. अब एंजियोप्लास्टी होनी है, लेकिन ब्लड लॉस हो रहा है, इसके चलते एंडोस्कोपी हुई है और ब्लड चढ़ाया जा रहा है. समर्थकों का एक गुट एलोपैथिक उपचार के लिए दिल्ली या मुंबई के बड़े अस्पताल ले जाना चाहते हैं. अब पुलिस ने दिल्ली निवासी डॉ. कपिल भोला और विशाल खन्ना को गिरफ्तार किया है.

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ेंः ऊंट की तस्करी करते 3 आरोपी गिरफ्तार, पुलिस ने जब रोकी गाड़ी तो उड़ गए होश

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT