धौलपुर: पुलिस-डकैत के बीच चले 65 राउंड फायर, भाग निकला डैकेत केशव

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

राजस्थान के धौलपुर जिले में बाड़ी उपखंड के सोने का गुर्जा थाना क्षेत्र के जंगल ओलेट की खिरकारी में एक लाख 15 हजार रुपए के इनामी डकैत केशव गुर्जर व उसके साथियों के छिपे होने की भनक लगी। जिसके बाद डकैत केशव गुर्जर और उसके साथियों के साथ पुलिस का एक बार फिर से आमना-सामना हुआ है, लेकिन फिर से डकैत केशव गुर्जर और उसके साथी पुलिस को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गए।

इस मुठभेड़ के दौरान दोनों तरफ से करीब 65 राउंड गोलियां चली हैं। मुठभेड़ की कार्रवाई धौलपुर एसपी धर्मेंद्र सिंह के निर्देशन में बाड़ी सीओ मनीष कुमार शर्मा के नेतृत्व में हुई, जिसमें सोने का गुर्जा, सदर और बाड़ी कोतवाली पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई की, लेकिन डकैत केशव एक बार फिर से पुलिस को गच्चा देने में कामयाब हो गया। बाड़ी के पुलिस उप अधीक्षक मनीष कुमार शर्मा ने बताया कि शहर के एक प्रॉपर्टी डीलर के साथ मंगलवार को डकैत बदमाश केशव गुर्जर द्वारा मोबाइल पर धमकी देने का मामला आया था। प्रॉपर्टी डीलर ने इसकी शिकायत दर्ज कराई गई थी।

मामले को लेकर पुलिस ने अपने मुखबिर तंत्र को एक्टिव किया तो डकैत केशव गुर्जर और उसके साथी बंटी एवं शीशराम और कुछ अन्य की लोकेशन सोने का गुर्जा थाना इलाके के जंगल किरार की ओलेट खिरकारी में छिपे होने की भनक लगी। जिसके बाद आज बुधवार को बाड़ी कोतवाली, सदर और सोने का गुर्जा पुलिस टीम के साथ एसपी के निर्देशन में कार्रवाई की गई।

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

चम्बल के घने जंगल में पुलिस का दस्यु गैंग का आमना-सामना हो गया। जब उसे ललकारा तो डकैत केशव और उसके साथियो ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। इसके बाद पुलिस ने भी जबाबी फायरिंग की। डकैत केशव गुर्जर गैंग और पुलिस टीम के बीच हुई मुठभेड़ में डकैतों द्वारा करीब 40 राउंड फायर पुलिस टीम पर किये और पुलिस ने बचाव में करीब 26 राउंड फायर किये।

डकैत केशव गुर्जर, शीशराम गुर्जर व बन्टी पंण्डित चम्बल नदी के घने जंगल और बीहड का फायदा उठाकर भाग गये। बता दें कि कुख्यात डकैत केशव गुर्जर के खिलाफ धौलपुर जिले के साथ करौली, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के कई जिलों में दर्जनों मामलें दर्ज है और एक लाख 15 हजार रुपए का इनामी हैं। पुलिस और बदमाश का अब तक तीन बार आमना-सामना हो चुका है, लेकिन हर बार यह भागने में कामयाब रहा है।

ADVERTISEMENT

डकैत केशव गुर्जर विगत लंबे समय से धौलपुर पुलिस के लिए बड़ी चुनौती साबित हो रहा है। डकैत के खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, लूट, नकबजनी, रंगदारी जैसे चार दर्जन से अधिक संगीन धाराओं में आपराधिक मामलें दर्ज हैं। डकैत केशव के भाई शीशराम गुर्जर की गिरफ्तारी पर 25 हजार रुपए और साथी बन्टी पंण्डित की गिरफ्तारी पर 5 हजार रुपए की ईनाम घोषित है।

ADVERTISEMENT

कंटेंट: उमेश मिश्रा

    ADVERTISEMENT