झालावाड़: क्रिकेट मैच में जीत का जश्न मनाते देख हारे हुए दोस्त को आया गुस्सा, फिर हुई ये अनहोनी

ADVERTISEMENT

झालावाड़: क्रिकेट मैच में जीत का जश्न मनाते देख हारे हुए दोस्त को आया गुस्सा, फिर हुई ये अनहोनी
झालावाड़: क्रिकेट मैच में जीत का जश्न मनाते देख हारे हुए दोस्त को आया गुस्सा, फिर हुई ये अनहोनी
social share
google news

झालावाड़ में एक ऐसी घटना हो गई जिससे हर कोई न केवल हैरान है बल्कि इस कृत्य के बाद अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर परिजनों में चिंता भी है. मामला झालावाड़ जिले के भवानी मंडी कस्बे में स्थित राजस्थान टेक्सटाइल मिल की लेबर कॉलोनी का है. यहां एक बच्चे की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई है. इस मौत का कनेक्शन क्रिकेट मैच में जीत को लेकर है.

दरअसल क्रिकेट मैच के बाद 15 वर्षीय प्रकाश कुमार की टीम मैच जीत गई. वो अपने साथियों के साथ जीत का जश्न माने लगा. इधर मैच हारे हुए 25 वर्षीय मुकेश मीणा को ये सब नागवार लगा. उसने गुस्से में आकर प्रकाश के सिर में बैट से मार दिया. चोट लगने के बाद प्रकाश बेहोश होकर गिर गया. दोस्त उसे उठाकर उसके घर ले गए. वहां बेटे की हालत देख परिजन घबरा गए और उसे तुरंत नजदीकी सरकारी अस्पताल में ले गए. वहां से उसे निजी अस्पताल में रेफर कर दिया गया.

हालत बिगड़ी तो कोटा रेफर किया गया

इधर जैसे ही नाबालिग की हालत बिगड़ी तो उसे कोटा (Kota news) रेफर कर दिया गया. यहां एक अस्पताल में इलाज के दौरान प्रकाश की मौत हो गई. मौत की खबर आते ही परिजन का रो-रो कर बुरा हाल हो गए. इधर कॉलोनी में हंगामा मच गया. सूचना पर तुरंत पुलिस मौके पर पहुंची. मामले को बिगड़ता देख आसपास के थानों से पुलिस जाब्ते को बुलाया गया. इधर आरोपी मुकेश को डिटेन किया गया तब जाकर मामला शांत हुआ.

पहले भी दी थी धमकी

प्रकाश के बड़े भाई दिनेश ने बताया कि दो दिन पहले भी मुकेश मैच हार गया था. तब भी प्रकाश की जीत पर उसे बहुत गुस्सा आया था और वो उसे मारने के लिए कह रहा था. इधर प्रकाश की मौत के बाद गुस्साई भीड़ ने मुकेश की बाइक में तोड़फोड़ कर दी. परिजनों ने उसे घर में बंद कर बचाया. पुलिस ने उसे हिरासत में लिया तब जाकर मामला शांत हुआ. बताया जा रहा है कि मृतक प्रकाश और मुकेश का घर आसपास ही है. दोनों परिवारों में अच्छे संबंध हैं. मृतक प्रकाश की मां कैंसर की बीमारी से पीड़ित है. प्रकाश का बड़ा भाई और छोटी बहन हैं. वहीं आरोपी मुकेश का एक छोटा भाई है. प्रकाश के पिता और मुकेश के माता-पिता मिल में मजदूरी करते हैं.

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें:

Love मैरिज का अंत, पति के शव के पास बैठने वाली पत्नी की सामने आई ये कहानी!

    ADVERTISEMENT