फरार बदमाश पर पुलिस ने रखी इतनी इनामी राशि, सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा ऑर्डर

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Jhunjhunu: हार्डकोर फरार बदमाश पर लाखों रुपए तक की इनामी राशि के किस्से तो आपने खूब सुने होंगे. इस इनामी राशि के बावजूद भी अपराधियों के हौसले बुलंद नजर आते हैं. इनामी राशि के बाद खुद का जलवा बताने वाले हार्डकोर बदमाशों को सबक सिखाने के लिए झुंझुनू पुलिस ने गजब की पहल की है. पहल भी ऐसी कि सुनकर एक बार जरूर हैरानी होगी. झुंझुनू पुलिस ने आर्म्स एक्ट में फरार एक बदमाश को पकड़ने पर केवल 50 पैसे का इनाम घोषित किया है. झुंझुनू पुलिस का यह 50 पैसे का इनाम घोषित करने का यह ऑर्डर सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है. इस 50 पैसे के इनाम को घोषित करने के पीछे पुलिस अधीक्षक देवेंद्र कुमार विश्नोई ने वजह भी बताई है.

एसपी देवेंद्र कुमार का कहना है कि बदमाश (criminal) अपने ऊपर रखे इनाम को रुतबे से जोड़कर सोशल मीडिया पर वायरल (viral) करते हैं. जबकि बदमाशों को उनकी असली औकात दिखाने के लिए इस तरह से 50 पैसे का इनाम घोषित किया गया है.

बदमाशों को बताई उनकी औकात- पुलिस अधीक्षक

पुलिस के इस आदेश के पीछे यह मंशा और दलील है कि बदमाश अपने आप को डॉन नहीं समझे. पुलिस बदमाश और फरार आरोपियों को पकड़ने के लिए 500 से 1 लाख रुपए या उससे अधिक तक का इनाम भी घोषित करती रही है. असल मायने में यह इनाम की राशि कभी भी बदमाशों को पकड़वाने के काम नहीं आती रही है. जबकि बदमाश खुद पर रखे गए इनाम को कई बार देखने में आया कि सोशल मीडिया पर वायरल कर अपना रुतबा दिखाने का काम करते रहे हैं. पुलिस अधीक्षक का कहना है कि इनाम के चक्कर में कोई भी बदमाश को पकड़ने का काम नहीं करता है. पुलिस का सूचना तंत्र बदमाशों को पकड़ने के काम आता है, लेकिन इस तरह के रखे गए नाम से बदमाश अपनी रुतबा जमाने में कामयाब हो जाते हैं. इसलिए पुलिस ने बदमाशों को उनकी औकात बताने के लिए इस तरह की शुरूआत किया. ताकि बदमाशों को यह बताया जाए कि उनकी औकात केवल 50 पैसे की है.

“अपराधियों का महिमामंडन नहीं होना चाहिए”

एसपी देवेंद्र बिश्नोई ने सिंघाना थाने के वांछित अपराधी योगेश पर 50 पैसे का इनाम घोषित किया है. वांछित अपराधी योगेश पर 50 पैसे का इनाम घोषित करने का आदेश जो ही सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, वैसे ही इस आदेश ने सोशल मीडिया पर चर्चाएं शुरू हो गई. किसी ने सोशल मीडिया पर लिखा कि राजस्थान में बदमाशों की औकात 50 पैसे की है तो किसी ने सोशल मीडिया पर लिखा कि अब राजस्थान में दो चवन्नी के बदमाश रह गए हैं. वायरल आदेश को लेकर झुंझुनूं एसपी देवेंद्र कुमार बिश्नोई ने पुष्टि करते हुए कहा कि अपराधियों का महिमामंडन नहीं होना चाहिए. उन्होंने बताया कि अपराध मुक्त समाज का संदेश देने को लेकर वांछित अपराधी पर 50 पैसे की इनामी राशि घोषित की गई है.

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ेंः श्रीगंगानगर में किसानों के सैलाब को देखकर पुलिस के हाथ-पांव फूले! पंजाब बॉर्डर को किया गया सील

    ADVERTISEMENT