सिरोही: जिस पर नाबालिग से दुष्कर्म का आरोप वो असल जिंदगी में खुद एक मां! जानें ये चौंकाने वाला मामला

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Sirohi News: राजस्थान के सिरोही में नाबालिग से दुष्कर्म का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. इस मामले में जिस आरोपी को पुरूष बताया जा रहा था वो मेडिकल जांच में एक महिला निकली. पुलिस जांच में यह सामने आया है कि आरोपी पर कुछ माह पूर्व भी एक लड़की को भगाकर ले जाने का मामला जिले के आबूरोड सदर पुलिस थाना में दर्ज है. फिलाहल पुलिस ने शुरूआती जांच के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक शहर के महिला थाने में पीड़िता के पिता ने 28 नवंबर को रिपोर्ट देकर बताया कि उसकी नाबालिग बेटी 25 नवंबर को शाम के वक्त शौच करने बाहर गयी थी. शौच से लौटते वक्त आरोपी शंकर उर्फ दादिया ने उसे पकड़ लिया और झाड़ियों की तरफ ले गया. वो दो दिन तक बंधक बनाकर उससे दुष्कर्म करता रहा. दो दिन बाद उसे हाइवे के पास छोड़कर फरार हो गया.

पीड़िता के पिता की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने पोक्सो व अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर आरोपी शंकर उर्फ दादिया की तलाश शुरू कर दी. महिला थाना अधिकारी माया पंडित ने बताया कि तकरीबन 6 दिन की तलाश के बाद उन्हें मुखबिर से सूचना मिली कि पास के एक गांव में आरोपी शंकर उर्फ दादिया मौजूद है. सूचना के बाद पुलिस ने बताए गए लोकेशन पर पहुंचकर आरोपी को हिरासत में ले लिया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

पुलिस ने मेडिकल रिपोर्ट देखा तो उड़े होश
आगे के अनुसंधान के लिए उसे थाने ले जाया गया. इसके बाद इसे मेडिकल के लिए ले जाया गया. पुलिस के हाथ जब मेडिकल रिपोर्ट आई तो रिपोर्ट पढ़कर वो चौंक गई. दरसल जिस आरोपी को पहनावे और रहन-सहन के हिसाब से पुरूष समझा जा रहा था असल जिन्दगी में वो एक महिला थी. आरोपी की मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद थानाधिकारी माया पंडित ने पूरे मामले की गहनता से पड़ताल करनी शुरू कर दी.

यह भी पढ़ें: जयपुर: लुटेरी दुल्हन से लुट चुके दूल्हे ने खुद भी ज्वाइन कर ली उनकी गैंग, बताई ये वजह

ADVERTISEMENT

पूछताछ में पता चला कि पुरूष के ड्रेस में रहकर आरोपी ढाबों और होटलों में काम करता है. पड़ताल में यह भी सामने आया कि आरोपी पर इससे पहले भी जिले के आबूरोड सदर थाने में एक लड़की को भगाकर ले जाने का मामला दर्ज है. पुलिस ने अपनी शुरूआती जांच के बाद आरोपी को कोर्ट में पेश कर दिया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है .फिलहाल आरोपी जेल में है.

ADVERTISEMENT

एक बेटी की मां है शंकर उर्फ दादिया
पुरूषों के पहनावे में नजर आने वाली कभी जीतू, कभी शंकर असल जिन्दगी में एक महिला है. शादीशुदा होने के साथ ही एक 5 साल की बेटी की मां भी है. अपनी आदतों के चलते घर, परिवार बेटी और पति को छोड़ शीला (बदला हुआ नाम ) छद्म नामों से अलग-अलग जगहों पर होटल-ढाबों और केटरर्स में काम कर अपनी आजाद जिन्दगी जी रही थी. इसी दौरान उसकी नजर इस पीड़िता पर पड़ी और दूसरी बार पुलिस के हत्थे चढ़ी तो यह राज बाहर आया कि पुरूषों के भेष में जिदगी जी रहा शंकर असल जिदगी में शीला (बदला हुआ नाम ) है.

कंटेंट: राहुल त्रिपाठी

    ADVERTISEMENT