अशोक गहलोत और सचिन पायलट ने कहा है कि राजस्थान में कांग्रेस एक है- केसी वेणुगोपाल

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Rajasthan News: राजस्थान की सियासी उथल-पुथल और बयानबाजियों के बीच राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को सफल बनाने के लिए संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल जयपुर आए. उन्होंने तैयारियों के लिए बनी 36 लोगों की कमेटी की बैठक ली. इस मीटिंग में सीएम अशोक गहलोत, सचिन पायलट, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा, हरिश चौधरी और जुबैर खान समेत अन्य सदस्य मौजूद रहे. इस मौके पर पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि अशोक गहलोत और सचिन पायलट ने कहा है कि राजस्थान में कांग्रेस एक है. पत्रकारों के सवाल के जवाब के दौरान उन्होंने वो तस्वीर भी दिखा दी जो लंबे समय से राजस्थान के सियासत में नहीं देखी गई थी.

सीएम गहलोत के बयान से जुड़े सवाल और पार्टी में अनुशासनहीनता के सवाल पर केसी वेणुगोपाल ने एक हाथ सीएम गहलोत का पकड़ा और दूसरा हाथ सचिन पायलट का पकड़कर उठा दिया . उन्होंने ये बताया कि राजस्थान में हम एक हैं. वेणुगोपाल ने कहा- हम यूनाइटेड हैं.

केसी वेणुगोपाल ने कहा- अशोक जी और सचिन पायलट जी ने कहा है कि राजस्थान में कांग्रेस पार्टी एक है. राहुल गांधी ने स्पष्ट रूप से कहा है कि अशोक गहलोत और सचिन पायलट दोनों ही पार्टी के लिए संपत्ति हैं. अनुशासनहीनता के सवाल पर वेणुगोपाल ने कहा- एडवाइजरी के बाद किसने-किसने स्टेटमेंट दिया इसके बारे में पीसीसी अध्यक्ष से पूछा है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ऐसा था मीटिंग का नजारा
केसी वेणुगोपाल जयपुर आए. भारत जोड़ो यात्रा को लेकर पार्टी के तमाम नेताओं के साथ मंथन हुआ. इस मुलाकात में अशोक गहलोत और सचिन पायलट का भी आना पहले से ही तय था, क्यों कि इस बार तो चाहकर भी ये दोनों इस बैठक से किनारा नहीं कर सकते थे. अंदर मीटिंग चल रही थी, बाहर कयासों का बाजार गर्म हो रहा था कि अब ना जाने क्या होगा. आज तो गहलोत और पायलट आमने-सामने आने वाले हैं, कहीं कुछ बड़ा तो नहीं होने वाला है, लेकिन बैठक के कुछ देर बाद ही अंदर से जब तस्वीरें निकलकर आईं, तो देखने वाले भी हैरत में पड़ गए.

एक दूसरे के पास थी गहलोत और पायलट की कुर्सी
अशोक गहलोत से कुछ ही दूरी पर बगल में सचिन पायलट की भी कुर्सी लगी थी. दोनों नेता साथ ही बैठे थे. वेणुगोपाल जी से सारे नेताओं की बात हुई, लेकिन बैठक के लिए बनाए गए वार रूम में जैसे ही वेणुगोपाल आए तो सचिन पायलट ने हाथ जोड़कर उन्हें नमस्ते किया. वेणुगोपाल के साथ सीएम साहब भी थे, लिहाजा सचिन पायलट ने उनसे मुखातिब होकर भी शिष्टाचार निभाया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें: जब राहुल गांधी ने कह दिया हम असेट हैं तो हम असेट ही हैं, यात्रा को सफल बनाएंगे- गहलोत

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT