जयराम रमेश ने राजस्थान में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर दिया ये बड़ा इशारा, जानें

ADVERTISEMENT

Rajasthantak
social share
google news

Bharat Jodo Yatra: राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा के बीच गहलोत-पायलट की गुटबाजी की चर्चाओं को एक बार फिर हवा मिल गई है. अब इसे कांग्रेस पार्टी खुले तौर पर स्वीकार भी कर रही है. कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने इसे स्वीकारते हुए जल्द ही सबकुछ ठीक होने की बात कही है. भारत जोड़ो यात्रा में अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच मतभेद के सवाल पर कहा कि दोनों में कोई लड़ाई नहीं है. हां, मतभेद जरूर है. लेकिन यात्रा से सकारात्मक असर होने के संकेत दिए है.

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने गहलोत-पायलट दोनों नेताओं को असेट बताया था. हमारे लिए दोनों नेता अहम है. एक अनुभवी है तो दूसरे ऊर्जावान और युवा नेता. जयराम रमेश ने दावा किया कि भारत जोड़ो यात्रा का असर राजस्थान के संदर्भ में कांग्रेस की राजनीति पर सकारात्मक होगा.  

यह भी पढ़ेः दिव्या मदेरणा बोली सिर्फ प्रतिनिधित्व काफी नहीं बल्कि महिलाओं के हाथ में फैसला लेने वाली कलम भी हो

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

गहलोत के गद्दार वाले बयान पर कांग्रेस वरिष्ठ नेता ने की थी तल्ख टिप्पणीः

इससे पहले अशोक गहलोत के गद्दार वाले बयान पर वरिष्ठ नेता ने तल्ख रूख अपनाया था. गहलोत के बयान के बाद यहां तक कह दिया था कि संगठन के हक में कठोर फैसला भी लेना पड़ा तो लिया जाएगा. उनका कहना था कि अशोक गहलोत हमारे वरिष्ठ और अनुभवी नेता हैं. सचिन पायलट ऊर्जावान और युवा हैं. पार्टी को दोनों की जरूरत है. कुछ शब्द हैं जो सीएम की तरफ से इस्तेमाल किये गए हैं उस पर काम किया जाएगा.

ADVERTISEMENT

 

ADVERTISEMENT

    ADVERTISEMENT