Loksabha Election 2024: प्राण प्रतिष्ठा का राजस्थान की सीटों पर होगा असर? फलोदी सट्टा बाजार ने बताया

ADVERTISEMENT

Loksabha Election 2024: प्राण प्रतिष्ठा का राजस्थान की सीटों पर होगा असर? फलोदी सट्टा बाजार ने बताया
Loksabha Election 2024: प्राण प्रतिष्ठा का राजस्थान की सीटों पर होगा असर? फलोदी सट्टा बाजार ने बताया
social share
google news

Phalodi Satta Bazar: अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा (Ramlala Pran Pratishtha) के बाद देशभर के कई राज्यों का चुनावी गणित बदल गया है. अब इस बात की चर्चा होने लगी है कि इस कार्यक्रम से लोकसभा चुनाव (Loksabha Election 2024) में बीजेपी (BJP) या कांग्रेस (Congress) में से किसे फायदा मिलेगा? इस बीच फलोदी सट्टा बाजार ने भी बड़ा दावा किया है. सट्टा बाजार ने बताया है कि रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद राजस्थान में बीजेपी को कितनी सीटें मिलेंगी?

फलोदी सट्टा बाजार का दावा है कि रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद राजस्थान में कोई खास बदलाव होता हुआ नहीं दिख रहा है. पिछले दो लोकसभा चुनावों में कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया था और उसे एक भी सीट नहीं मिली थी. अब सट्टा बाजार ने फिर से बीजेपी को 25 में से 24-25 सीटें मिलने की संभावना जताई है. मतलब साफ है कि फलोदी सट्टा बाजार के मुताबिक इस बार भी कांग्रेस को कुछ भी नहीं मिलने वाला है.

‘350 सीटें भी पार कर सकती है बीजेपी’

फलोदी सट्टा बाजार पहले बीजेपी को देशभर में 312-315 सीटें मिलने का अनुमान जता रहा था. लेकिन रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद स्थिति अब बदल गई है. अब लोकसभा चुनाव में 332 से 335 सीटें भी मिल सकती है. पहले 300 सीट के लिए भाव 70-80 पैसा था, जो अब घटकर 20 पैसे का भाव हो गया. इसी बीच 350 सीट आने के भी आसार बढ़ गए. दरअसल, 350 सीट का भाव 7 रुपए था जो अब 3 रुपए हो गया. ऐसे में आंकलन यही जताया जा रहा है कि बीजेपी 350 के आंकड़े को भी पार कर सकती है.

400 सीटों को लेकर भी बढ़ गए आसार!

वहीं, देशभर में बीजेपी के लिए 400 सीटों के अनुमान को लेकर भी सट्टा लगाया जा रहा है. हालांकि इसे लेकर अभी भाव काफी ज्यादा है. राम मंदिर से पहले तक यह भाव 25 रुपए तक था. लेकिन देशभर में बीजेपी के पक्ष में लहर को देखते हुए यह भाव 10 रुपए से भी कम हो गया है. फलोदी सट्टा बाजार में बीजेपी को 400 सीटों पर 8 रुपए का भाव चल रहा है. वहीं दूसरी तरफ सट्टा बाजार कांग्रेस को महज 50-52 सीट ही बता रहा है. यही नहीं, भविष्य में इन सीटों के घटने की भी संभावना है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

यह भी पढ़ें: राम मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा के बाद शिक्षा मंत्री ने 34 साल बाद पहनी माला, अब मथुरा को लेकर लिया ये संकल्प

    ADVERTISEMENT