लोकसभा चुनाव से पहले हरीश चौधरी को मिली बड़ी जिम्मेदारी, कांग्रेस पार्टी में मिला ये पद

ADVERTISEMENT

Baytoo Assembly Seat Result 2023: आरएलपी ने बिगाड़ा हरीश चौधरी का खेल, देखें बायतू में कौन किस पर भारी
Baytoo Assembly Seat Result 2023: आरएलपी ने बिगाड़ा हरीश चौधरी का खेल, देखें बायतू में कौन किस पर भारी
social share
google news

Harish chaudhary: कांग्रेस (congress) में नेता प्रतिपक्ष और प्रदेश अध्यक्ष को लेकर कयास लग रहे हैं. नेता प्रतिपक्ष के लिए टीकाराम जूली, मुरारीलाल मीणा, महेंद्रजीत सिंह मालवीय और हरीश चौधरी (Harish chaudhary) का नाम रेस में है. वहीं, सचिन पायलट को छत्तीसगढ़ प्रभारी बनाए जाने के बाद उन्हें अब दावेदार नहीं माना जा रहा है. इन सबके बीच प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा का भी नाम आगे हैं. डोटासरा के नेता प्रतिपक्ष बनने की स्थिति में प्रदेश अध्यक्ष का पद खाली हो जाएगा.

इन सबके बीच हरीश चौधरी को राष्ट्रीय स्तर पर बड़ी जिम्मेदारी मिल गई है. हरीश चौधरी को यह जिम्मा लोकसभा चुनाव के लिहाज से दिया गया है. इससे पहले भी वह राष्ट्रीय स्तर पर कई जिम्मेदारी देख चुके हैं.

राहुल गांधी के करीबी नेता को मिली ये जिम्मेदारी

कांग्रेस के विधायक और राहुल गांधी के करीबी हरीश चौधरी को दक्षिण भारत के राज्यों का जिम्मा दिया गया है. वह कर्नाटक, तेलंगाना, तमिलनाडु समेत आधा दर्जन राज्यों के लिए लोकसभा चुनाव की स्कैनिंग कमेटी के अध्यक्ष होंगे. इन राज्यों में उन्हें 108 सीटों पर लोकसभा के लिए कांग्रेस प्रत्याशियों का पैनल फाइनल करना है. कांग्रेस को सबसे ज्यादा इन्हीं राज्यों से इस बार ज्यादा उम्मीद है. लिहाजा जिम्मेदारी हरीश चौधरी को दी गई है. इससे पहले हरीश चौधरी पंजाब के प्रभारी भी रह चुके हैं. गहलोत सरकार में 3 साल तक राजस्व मंत्री भी रह चुके हैं. वर्तमान में प्रतिपक्ष के नेता के तौर पर भी हरीश चौधरी का नाम सुर्खियों में चल रहा हैं.

यह भी पढ़ेंः बीजेपी विधायक बालमुकुंद आचार्य के वीडियो वायरल होने के बाद कांग्रेस MLA रफीक खान ने लगाए गंभीर आरोप

यह भी पढ़ें...

    ADVERTISEMENT